जागरण संवाददाता, पिथौरागढ़: पेट्रोल, डीजल के बढ़ते दामों और महंगाई को लेकर कांग्रेस आहूत भारत बंद जिला मुख्यालय पिथौरागढ़ और मदकोट में पूरी तरफ सफल रहा। दोनों स्थानों पर बाजार बंद रहे और शिक्षण संस्थाएं बंद की गई। टैक्सी संचालन ठप रहा। कांग्रेसियों ने जुलूस निकाल कर सिलेंडरों के साथ प्रदर्शन किया। सभा कर मोदी सरकार पर जुबानी हमले किए। मदकोट और बंगपानी में भी कांग्रेसजनों ने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए पुतला फूंका।

कांग्रेस के भारत बंद के तहत सोमवार सुबह से ही कांग्रेस जिलाध्यक्ष त्रिलोक महर और युंका जिलाध्यक्ष ऋषेंद्र महर के नेतृत्व में कांग्रेसी सड़कों पर उतर गए थे । इस दौरान अधिकांश बाजार बंद थे। जहां कहीं पर बाजार खुला था उसे बंद कराया। बाद में खुल चुके विद्यालयों को बंद कराया। नौ बजते -बजते पूरा बाजार और शिक्षण संस्थाएं बंद हो गई । टैक्सी यूनियन भी बंद के समर्थन में आ गए । अलबत्ता रोडवेज की बसें और निजी वाहन सड़कों पर दौड़ते रहे। बंद के दौरान कांग्रेसजनों ने शालीनता का परिचय दिया। विद्यालयों में जाकर अपील की इस अपील पर विद्यालय संचालकों ने अपने शिक्षण संस्थान बंद कर दिए ।

वहीं व्यापार संघ अध्यक्ष शमशेर महर ने कहा कि भारत बंद का व्यापारियों की तरफ से कोई समर्थन नहीं है अलबत्त्ता उनका निजी समर्थन है। बाजार और शिक्षण संस्थाओं के बंद होने के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने गैस सिलेंडरों के साथ टकाना में प्रदर्शन किया। बाद में नगर में जुलूस निकाला और गांधी चौक में सभा की। सभा में बढ़ती महंगाई और पेट्रो पदार्थों की कीमत बढ़ने पर मोदी सरकार को लुटेरा बताया और पुतला फूंका। इस मौके पर सैकड़ों कांग्रेसी मौजूद थे।

माले, छात्रसंघ और दवा प्रतिनिधियों ने दिया समर्थन

पिथौरागढ़: कांग्रेस के भारत बंद का समर्थन करने वाले उक्रांद , बसपा व अन्य संगठन बंद में कहीं नजर नहीं आए। भाकपा माले नेता गोंिवंद कफलिया, छात्रसंघ अध्यक्ष राकेश जोशी, कोषाध्यक्ष सहित तमाम छात्रों और दवा प्रतिनिधियों ने बंद का समर्थन किया। कांग्रेस आहूत सभा में बोलते हुए प्रदर्शन भी किया। विविमंइंका में प्रदर्शनकारियों और आचार्यों में झड़प

पिथौरागढ़: नगर के जाखनी स्थित विवेकानंद विद्या मंदिर इंटर कालेज को बंद कराने को लेकर प्रदर्शनकारियों और विद्यालय प्रशासन के बीच झड़प हुई। जिसे देखते हुए प्रधानाचार्य ने फोन कर पुलिस को बुलाया। उनका कहना था कि बंद के लिए पूर्व में कोई समर्थन नहीं मांगा गया था। आज से ही विद्यालय में परीक्षाएं भी होनी थी। झड़प के बाद विद्यालय बंद करा दिया गया।

भाजपा ने कहा जोर जबरन कराया गया बाजार बंद

पिथौरागढ़: भाजपा ने कांग्रेस के बंद को नौटंकी करार दिया है और कहा है कि पिथौरागढ़ में जोर जबरन और व्यापारियों को धमका कर बाजार बंद कराया गया। पेट्रोल, डीजल से लेकर महंगाई पर आरोप लगाने वाली कांग्रेस अपने शासनकाल की महंगाई को भूल चुकी है।

भाजपा जिलाध्यक्ष विरेंद्र वल्दिया ने कहा कि कांग्रेस के भारत बंद के साथ कोई नहीं था। जबरन डरा, धमका कर दुकानें और विद्यालय बंद कराए गए। पिथौरागढ़ छोड़ कर पूरे जिले में अन्यत्र कहीं भी बंद नहीं हुआ। मदकोट, बंगापानी बाजार रहा बंद, पुतला फूंका फोटो फाइल: 10 पीटीएच

परिचय: मदकोट : कांग्रेस विधायक हरीश धामी के गृह क्षेत्र मदकोट और बंगापानी में भी भारत बंद सफल रहा । दोनों स्थानों पर बाजार बंद रहा। तहसील मुख्यालय बंगापानी में कांग्रेसजनों ने मोदी सरकार का पुतला फूंकते हुए प्रदर्शन किया। वक्ताओं ने कहा कि मोदी सरकार के शासनकाल में महंगाई चरम पर है। रोज बढ़ रहे पेट्रोल और डीजल के दामों के चलते आम आदमी का सफर करना तक बंद हो चुका है। प्रदर्शन करने वालों मे दर्जनों कांग्रेसी शामिल थे।

Posted By: Jagran