संवाद सहयोगी, पौड़ी: जिला चिकित्सालय पौड़ी को लंबे समय बाद फिजिशियन मिल गया है। चिकित्सालय में एक वर्ष से अधिक समय से फिजिशियन का पद रिक्त चल रहा था। नागरिक कल्याण मंच डॉक्टरों की नियुक्ति सहित अन्य मांगों को लेकर आंदोलित है। दूसरी ओर, पौड़ी बचाओ संघर्ष समिति के संयोजक चिकित्सालय में स्वास्थ्य सुविधाएं सुचारु किए जाने के लिए आमरण अनशन कर चुके हैं। विधायक पौड़ी चिकित्सकों की नियुक्ति को लेकर शासन स्तर पर सक्रिय नजर आए।

जिला चिकित्सालय पौड़ी में बेस चिकित्सालय हल्द्वानी में सेवारत डॉ. अजय रौतेला का स्थानांतरण फिजिशियन पद पर स्थाई रूप से किया गया है। डॉ. रौतेला ने पहाड़ में सेवा की इच्छा जाहिर करते हुए 26 जून 2018 को स्वास्थ्य महानिदेशक से जिला चिकित्सालय पौड़ी में नियुक्ति दिए जाने के लिए पत्र भेजा। शासन स्तर पर उनका पत्र काफी चर्चा में भी रहा। नागरिक कल्याण मंच चिकित्सालय परिसर में 23 जुलाई 2018 से आंदोलित है। मंच के प्रतिनिधिमंडल ने जिला चिकित्सालय की स्वास्थ्य सुविधाओं को दुरुस्त किए जाने की मांग को लेकर 31 अगस्त 2018 को स्वास्थ्य महानिदेशक से मुलाकात भी की। पौड़ी बचाओ संघर्ष समिति के संयोजक नमन चंदोला चिकित्सालय की सुविधाएं सुचारु किए जाने की मांग को लेकर आमरण अनशन कर चुके हैं। इस बीच स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के गढ़वाल निदेशक ने अगस्त में राजकीय संयुक्त चिकित्सालय ऋषिकेश में सेवारत डॉ. सुरेश कोठियाल को 15 दिनों के लिए जिला चिकित्सालय में नियुक्त किया। जनता की मांग, डॉ. रौतेला के सेवाभाव व विधायक मुकेश कोली के प्रयास के बाद स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ. टीसी पंत ने जिला चिकित्सालय में फिजिशियन के पद पर स्थाई नियुक्ति कर दी है। डॉ. रौतेला की नियुक्ति किए जाने पर नागरिक कल्याण मंच के मुख्य संयोजक रघुवीर ¨सह रावत, संयोजक केदार ¨सह गुसाई, धर्मवीर रावत, ललित मोहन कोठियाल, गिरीश बड़थ्वाल, प्रशांत नेगी ने आंदोलन की जीत करार दिया। विधायक प्रतिनिधि जगत किशोर बड़थ्वाल, मंडल अध्यक्ष ग्रामीण शैलेंद्र नौटियाल, कल्जीखाल अनिल नेगी, कोट दीपक रावत, विवेक मंमगाई, विधायक प्रतिनिधि कमल रावत, लक्ष्मण डुकलान, अजेंद्र अजय, धर्मवीर नेगी, क्रांतिकिशोर सहित अन्य भाजपाइयों ने नियुक्ति को सरकार की ठोस पहल बताया।

Posted By: Jagran