संवाद सूत्र, दुगड्डा (पौड़ी गढ़वाल)। दुगड्डा नगर पालिका से सटे ग्राम गोदी बड़ी में गुलदार ने एक मासूम बच्ची को निवाला बना लिया। सूचना के बाद वन विभाग की टीम आसपास के क्षेत्रों में गुलदार की तलाश में जुट गई है।ग्राम गोदी बड़ी निवासी चंद्रमोहन डबराल की साढ़े तीन वर्षीय पुत्री माही शनिवार शाम करीब सात बजे अपनी दादी वह अन्य ग्रामीणों के साथ खेत से घर की ओर आ रही थी। माही दादी से आगे बच्चों के साथ चल रही थी। इसी दौरान झाड़ि‍यों में घात लगाकर बैठे गुलदार ने माही पर झपट्टा मार दिया और उसे घसीटते हुए झाड़ि‍यों की ओर ले गया। ग्रामीणों ने शोर मचाते हुए झाड़ि‍यों की ओर पत्थर फेंकने शुरू किए, जिसके बाद गुलदार माही को मौके पर छोड़ जंगल की ओर भाग गया।

ग्रामीण माही को झाड़ि‍यों से निकाल उसके घर लेकर पहुंचे, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। गुलदार ने माही के चेहरे व गर्दन पर गहरे घाव कर दिए थे। सूचना मिलते ही लैंसडाउन वन प्रभाग की दुगड्डा रेंज के रेंज अधिकारी किशोर नौटियाल पूरी टीम के साथ गांव में पहुंचे। घटनास्थल का मौका मुआयना करने के बाद टीम ने गुलदार की तलाश शुरू कर दी। रेंज अधिकारी ने बताया कि गांव में वन कर्मियों की गश्त शुरू कर दी गई है। साथ ही पिंजरा लगाने के लिए उच्चाधिकारियों को पत्र भेजा जा रहा है।

बताते चलें कि 11 मार्च को गुलदार ने दुगड्डा नगर से सटे ग्राम सरड़ा में भी एक बच्चे पर हमला किया था। गुलदार के हमले में बच्चा बुरी तरह घायल हो गया था।

यह भी पढ़ें-रानीखेत में गुलदार से 10 मिनट तक लड़ा दुकानदार, अस्पताल में चल रहा इलाज

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें