जागरण संवाददाता, रामनगर : खेत में घास काट रही महिला पर गुलदार ने हमला क दिया। गुलदार के झपटने से गिरी महिला का हाथ फैक्चर हो गया। महिला को संयुक्त चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। गांव में सुरक्षा के साथ ही गुलदार को पकडऩे के लिए वन विभाग की टीम ने पिंजरा लगा दिया है।

तराई पश्चिमी वन प्रभाग के अंतर्गत रामनगर रेंज के अंतर्गत शुक्रवार को भगुवाबंगर निवासी पूर्व प्रधान धन सिंह हाल्सी के खेत में हेमा रावत अपनी दो पुत्रियों के साथ घास काट रही थी। खेत में आए गुलदार ने हेमा पर हमला बोल दिया। महिला की दोनों बेटियों ने चीख पुकार मचाई तो गुलदार उसे छोड़कर चला गया। हमले में महिला का हाथ भी फैक्चर हो गया। सूचना पर पहुंचे ग्रामीण घायल महिला को उपचार के लिए संयुक्त चिकित्सालय लाए। जहां महिला की हालत ठीक बताई जा रही है।

प्राथमिक उपचार के बाद उसे भर्ती कर लिया। सूचना पर रामनगर रेंजर शेखर तिवारी ने चिकित्सालय पहुंचकर घटना की जानकारी ली। गुलदार के गांव में खतरे को देखते हुए वन विभाग ने गश्त बढ़ा दी है। वहीं गुलदार को पकडऩे के मकसद से मौके पर पिंजरा भी लगा दिया गया है। गुलदार को लालच देने के लिए पिंजड़े में कुत्ता भी रखा गया है। गुलदार कुत्ते पर हमला करने के दौरान पिंजड़े में कैद होकर रह जाएगा। रेंजर तिवारी ने बताया कि ग्रामीणों से भी सुरक्षा बरतने की अपील की जा रही है।

सप्ताह के भीतर गुलदार का दूसरा हमला

गुलदार एक सप्ताह पहले भी जस्सागांजा में एक महिला पर हमला कर चुका है। सप्ताह के भीतर गुलदार द्वारा दो महिलाओं पर हमला करने से गांव में दहशत बनी हुई है।  गुलदार गांव में दो कुत्तों को भी निवाला बना चुका हे। ग्रामीणों ने जल्द गुलदार को पकडऩे की मांग की है। रेंजर ने बताया कि गुलदार को पकडऩे का प्रयास किया जा रहा है।

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप