हल्द्वानी, जागरण संवाददाता : कांग्रेस ने संध्या डालाकोटी का टिकट काटकर पूर्व सीएम हरीश रावत को रामनगर से हटकार लालकुआं से प्रत्याशी बना दिया है। जिसके बाद संध्या डालाकोटी ने मोर्चा खोल दिया है। पूर्व कैबिनेट मंत्री हरीश दुर्गापाल और हरीश रावत को लेकर वह खुलकर मैदान में आ गई हैं। इंटरनेट मीडिया में उनका एक पोस्ट तेजी से वायरल हो रहा है। जिसमें उन्होंने लिखा है कि पिता तुल्य हरीश दुर्गापाल ने मेरा अपमान किया और हरीश रावत ने मुझे ठेंस पहुँचाई है। नारी शक्ति के सम्मान में मैं डंटी रहूँगी। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि वह निर्दल ताल ठोंक सकती हैं। इसके लिए आज उन्‍होंने बैठक बुलाई है।

टिकट कटने से आहत संध्या डालाकोटी ने लिखा है कि ...नारी सीता, नारी काली।। नारी ही प्रेम करने वाली।। नारी कोमल, नारी कठोर।। नारी बिन नर का कहां छोर। आगे उन्‍होंने ल‍िखा क‍ि लालकुआं विधानसभा की माताओं, बहनों बुजुर्गों नौजवान भाइयों। मुझे कांग्रेस पार्टी ने टिकट दिया था। कई वर्षों से पार्टी के लिए पूरी निष्ठा से कार्यकर्ता के रूप में काम किया। अपना घर बार छोड़कर हर किसी के सुख दुख में भागीदार बनी। जितना मेरी क्षमता थी उस हिसाब से हर किसी की मदद की। कोरोना काल कि विपरीत स्थितियों में हर रोज अपने हाथों से पैकेट बनाकर हज़ारों कमजोर वर्ग तक राशन पहुंचाया। आपदा में लोगों की मदद की।

संध्‍या डालाकोटी ने कहा क‍ि परसों मेरे पिता तुल्य दुर्गापाल ने मेरा अपमान किया और अब हरीश रावत ने मुझे ठेंस पहुँचाई है। इसे मैं अपनी आखिरी सांस तक नहीं भूलूंगी। लड़की हूँ लड़ सकती हूं... यह नारा देने वाली पार्टी ने मेरा घोर अपमान किया है, मेरे सेवाभाव में मेरे संघर्ष में मेरे कर्मों में क्या कमी रह गई थी जो मुझे आज इस तरह अपमानित होना पड़ा। मेरी आवाज समाज की हर उन माता-बहनों की आवाज बनेगी, जिन्हें उनके हक से वंचित किया जाता है । अगर मेरी अपील आपके मन के किसी भी कण को छूती है तो मेरे खेड़ा, गौलापार स्थित आवास पर आज एक बजे एक बैठक का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें मैं इस क्षेत्र की जनता का आशीर्वाद लूंगी और आगे की रणनीति तय करूंगी।

Edited By: Skand Shukla