जागरण संवाददाता, नैनीताल। उत्तराखंड के विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल नैनीताल में आशानुरूप पर्यटकों की आमद रही। रात से ही वाहनों की कतारें शहर से बाहर लगी रहीं। देर रात तक जश्न का दौर जारी रहा। लोग एक-दूसरे को नए साल की बधाई देते रहे। सुबह होते ही पर्यटकों ने नैना देवी सहित मंदिरों में माथा टेका। परिवार व देश के सुख समृद्धि की कामना की। उसके बाद सैर-सपाटे का दौर शुरू हो गया। रविवार को भी वीकेंड होने पर कारोबारी अच्छा कारोबार होने की उम्मीद जता रहे हैं।

थर्टी फर्स्ट पर सुबह से ही शहर में पर्यटकों की आमद शुरू हो गई थी। वाहनों का दबाव बढ़ने के बाद पुलिस ने रूसी बाईपास और नारायण नगर क्षेत्र में ही वाहनों को रोक शटल सेवा के माध्यम से पर्यटकों को शहर तक पहुंचाया।  रात तक पर्यटकों ने होटलों में जमकर जश्न मनाया। शनिवार को नए साल के पहले दिन भी शहर में पर्यटकों की अच्छी खासी आमद रही। वापस लौटने वाले पर्यटकों के साथ ही शहर पहुँचने वाले पर्यटकों का सिलसिला जारी रहा।

शहर पहुँचे पर्यटकों ने सुबह से ही नैना देवी मंदिर में पूजा अर्चना कर नए साल की शुरुआत की। साथ ही नैनी झील में जमकर नौकायन किया। सुबह से ही शहर के मल्लीताल बाजार, पंत पार्क, भोटिया मार्केट, माल रोड, हिमालय दर्शन, चिड़ियाघर समेत अन्य पर्यटन स्थल सैलानियों से गुलजार नजर आए। सुबह करीब दस बजे शहर के सभी पार्किंग स्थल फुल हो जाने के बाद रूसी और नारायण नगर क्षेत्र में ही पर्यटक वाहनों रोक दिया गया। जहां पर्यटक को पार्क करवाकर शटल सेवा के माध्यम से पर्यटकों को शहर के भीतर प्रवेश दिया गया। 

रूसी बाईपास में हजार से अधिक वाहन पार्क

थर्टी फर्स्ट और नव वर्ष के पहले दिन पर्यटकों की आमद बढ़ने से वाहनों को और उसी बाईपास क्षेत्र में ही पार्क किया जा रहा है। शनिवार सुबह से ही रूसी बाईपास क्षेत्र में पार्क किए गए वाहनों की लंबी कतार लगी हुई है। पुलिस जानकारी के मुताबिक बाईपास में एक हजार से अधिक वाहन पार्क किये गए हैं। इधर शहर पहुंचे पर्यटकों के वापस लौटने का सिलसिला भी जारी है। जिससे सुबह से ही शहर के तल्लीताल डांठ, मल्लीताल रिक्शा स्टैंड, मस्जिद तिराहा क्षेत्र में जाम की स्थिति बनी हुई है।

Edited By: Prashant Mishra