रामनगर, जेएनएन : राज्य स्तरीय चार दिवसीय वसंतोत्सव का आगाज ऐपण व चित्रकला प्रतियोगिता के साथ रामनगर में शुरू हो गया। इस दौरान बच्चों ने अपनी कला की प्रतिभा को उजागर करते हुए कागजों पर पशु पक्षियों व प्राकृतिक दृश्यों को उकेरा। तीन दिन तक चलने वाले वसंतोत्सव में राज्य के विभिन्न क्षेत्रों से आए कलाकार पहाड़ की संस्कृति व लोक गाथाओं से रूबरू कराएंगे।

ऐपण प्रतियोगिता 11 महिलाओं ने लिया हिस्‍सा

पर्वतीय सास्कृतिक समिति पैठपड़ाव में मंगलवार को महिलाओं के लिए ऐपण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें 11 महिलाओं ने लक्ष्मी चौकी, सरस्वती चौकी, नव दुर्गा चौकी, जनेऊ चौकी, लक्ष्मी नारायण चौकी, श्री पीठ चौकी व वर चौकी बनाई। इसके अलावा कक्षा एक से पांच तक व पाच से आठ तक के बच्चों के लिए चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित कराई गई। इस दौरान प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता के जरिये भी बच्चों से उनका सामान्य ज्ञान परखा गया। प्रतियोगिताओं का शुभारंभ सुनीता बेलवाल ने दीप प्रज्वलित कर किया। ऐपण व चित्रकला प्रतियोगिता में बृजमोहन जोशी द्वारा निर्णायक की भूमिका निभाई गई। निर्णायकों द्वारा घोषित किए जाने वाले प्रतियोगिता के विजेताओं को वंसतोत्सव के समापन पर पुरस्कार वितरित किया जाएगा।

आज निकलेगी नगर में झांकी

नगर में बुधवार को सांस्कृतिक जुलूस निकाला जाएगा। जुलूस का शुभारभ पूर्वाह्न 11 बजे से प्रगतिशील सास्कृतिक पैठपड़ाव से होगा। जुलूस में शामिल उत्तराखंड के विभिन्न अंचलों से आए कलाकार व स्थानीय लोग झाकी के जरिये कुमाऊं व गढ़वाल की संस्कृति का प्रदर्शन करेंगे। जबकि गुरुवार को लोक कलाकारों की टीम नृत्य नाटिका व लोक गाथाओं पर आधारित नाटकों का मंचन करेगी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस