संवाद सूत्र, लालकुआं : हल्दूचौड़ स्थित शहीद चंदन फिलिंग स्टेशन में गुरुवार को सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने शहीद लांसनायक चंदन सिंह की प्रतिमा का अनावरण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि शहीदों का सम्मान राष्ट्र का सम्मान है। सैनिकों शहीदों व वीरांगनाओं का सम्मान करना सरकार की प्राथमिकता है।

देश में पिछले 40 वर्षों से की जा रही वन रैक वन पेंशन को पूरा कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सैनिकों का सम्मान किया है। प्रदेश सरकार ने भी देश की सीमा पर शहीद होने वाले सैनिक के परिवार के एक आश्रित को योग्यतानुसार नौकरी देने का निर्णय लिया है। इसके अलावा सरकार द्वारा एनडीए व सीडीएस में निकलने वाले युवाओं की तैयारी हेतु 50 हजार रुपये दिया जा है।

इस मौके पर सैनिक लीग के अध्यक्ष ने उपनल कर्मियों का मानदेय बढ़ाने पर आभार व्यक्त किया। साथ ही बिंदुखत्ता क्षेत्र में कैंटीन, सैनिक मिलन केंद्र व सैनिक स्कूल खोलने की मांग की। इस पर मंत्री ने अधिकारियों को मामले में आवश्यक दिशा निर्देश दिए। यहां सेवानिवृत्त मेजर बीएस रौतेला, सैनिक कल्याण अधिकारी सेवानिवृत्त कैप्टन आरएस धपोला, शहीद चंदन सिंह की वीरांगना अनीता देवी, चंदन सिंह बिनोला, मदन सिंह राठौर, प्रताप सिंह, खिलाफ सिंह दानू, पूरन चंद्र जोशी, इंदर सिंह पनेरी आदि थे।

वीरांगनाओं ने दिया ज्ञापन

हल्दूचौड़ में आयोजित कार्यक्रम में अशोक चक्र विजेता शहीद मोहन नाथ गोस्वामी की वीरांगना भावना गोस्वामी व शहीद दीपक कैड़ा की वीरांगना किरन कैड़ा ने सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी को सरकारी नौकरी लगाने के लिए ज्ञापन दिया। कहा कि वह सालों से नौकरी के लिए भटक रही हैं। इस पर मंत्री गणेश जोशी ने जल्द आवश्यक कार्यवाही करने का आश्वासन दिया।

Edited By: Skand Shukla