हल्द्वानी, जेएनएन : महिलाओं के प्रति होने वाली हिंसा और अपने आसपास के क्षेत्र में बाल विवाह, घरेलू हिंसा जैसे मामलों पर रोक लगाने के लिए जनता का सहयोग जरूरी है। खासकर स्थानीय जनप्रतिनिधि इसमें अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।

मंगलवार को बाल विकास परियोजना हल्द्वानी शहरी क्षेत्र की ओर से नगर निगम सभागार में वार्ड प्रतिनिधियों के लिए जागरूकता कार्यशाला का आयोजन किया गया। बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान के अंतर्गत हुई कार्यशाला में सीडीपीओ डॉ. रेनू मर्तोलिया ने विभागीय योजनाओं की जानकारी देते हुए पार्षदों को असंतुलित बाल लिंगानुपात तथा महिलाओं पर प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष तौर पर होने वाली हिंसा जड़ से खत्म करने के लिए जनप्रतिनिधियों से सहयोग मांगा। वार्ड में महिलाओं के खिलाफ होने वाली हिंसा और बाल-विवाह जैसे मामलों पर जनप्रतिनिधि नजर रखेंगे और विभाग को इसकी सूचना देंगे।

कार्यशाला में मेयर डॉ. जोगेंद्र पाल सिंह रौतेला ने कहा कि असंतुलित लिंगानुपात को कम करने के लिए सभी को संकल्प लेना होगा। कार्यशाला में दो महिलाओं को बेबी किट भेंट की गई। इस अवसर पर सहायक नगर आयुक्त विजेंद्र चौहान, बाल विकास विभाग की सुपरवाइजर तुलसी बोरा, जानकी उपाध्याय, सुशीला बोरा सहित आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मौजूद रहे।

पार्षद पति बोले, पुरुष भी हो रहे उत्पीडऩ का शिकार

बाल विकास विभाग की ओर से बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ व घरेलू हिंसा पर निगम सभागार में आयोजित हुई कार्यशाला में तब अजब स्थिति बन गई जब पार्षद पति भुवन चंद्र तिवारी ने घरों में पुरुषों के उत्पीडऩ का मामला उठाया। उन्होंने कहा कि वह महिलाओं पर होने वाली हिंसा के खिलाफ हैं, लेकिन वर्तमान समय में इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि पुरुष भी घरेलू हिंसा का शिकार हो रहे हैं। इस पर बाल विकास अधिकारी डॉ. रेनू मर्तोलिया ने उन्हें समझाया कि परिवार को टूटने से बचाने के लिए पति और पत्नी दोनों की ही काउंसलिंग की जाती है। भुवन तिवारी की पत्नी नीमा तिवारी काठगोदाम रानीबाग वार्ड से पार्षद हैं। भुवन भाजपा उत्तरी मंडल के उपाध्यक्ष भी हैं। इस अवसर पर पार्षद दीप्ति बिष्ट, महबूब आलम, रवि वाल्मीकि, मनोज कुमार, हेमंत कुमार, राजेंद्र सिंह, धीरेंद्र रावत, नीमा भट्ट सहित अन्य पार्षद मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें : कॉर्बेट पार्क में अब हर पर्यटक कर सकेंगे बाघ का दीदार, जानिए क्‍या है योजना

Posted By: Skand Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप