हल्द्वानी, जेएनएन : शहर में बेतरतीब लगने वाले फड़-ठेलों के लिए मॉडल तैयार होने जा रहा है। गाजियाबाद की निजी कंपनी ने हल्द्वानी में वेंडिंग जोन का आदर्श मॉडल पेश करने की इच्छा जताई है। कंपनी के दावों की मानें तो आगामी छह माह में मॉडल तैयार हो जाएगा। इसके लिए निगम व कंपनी के बीच अनुबंध की प्रक्रिया चल रही है।

शहरी फेरी व्यावसायियों को सहयोग योजना के तहत निकाय क्षेत्र में फड़-ठेला लगाने वाले कारोबारियों को व्यवस्थित तरीके से बसाया जाना है। इसके लिए वेंडिंग जोन विकसित होने हैं। योजना पांच साल से गतिमान है, लेकिन धरातल पर कोई ठोस काम नहीं दिखा है। हाल के दिनों में योजना को गति देने का प्रयास हुआ है। अगस्त पहले सप्ताह में हुई वेंडिंग जोन कमेटी की बैठक में काम को तेजी देने के साथ नए क्षेत्रों में भी वेंडिंग जोन बनाने पर जोर दिया गया। गाजियाबाद की किरन सॉल्यूशन कंपनी ने निगम से संपर्क कर आदर्श वेंडिंग जोन का मॉडल पेश करने की इच्छा जताई है। यह काम कंपनी बिना किसी शुल्क के करेगी। हालांकि बाद में विकसित होने वाले वेंडिंग क्षेत्रों के लिए कंपनी कुछ शर्तें रखना चाहती है। जिसे लेकर निगम का रुख पॉजिटिव है। वेंडिंग जोन बनने से बेरोकटोक घूमने वाले ठेले वालों को ठिकाना मिलेगा तो शहरवासियों को यातायात में सुगमता होगी। 

यह काम करेगी कंपनी 

  • संभावित वेंडिंग जोन क्षेत्र का सर्वे
  • वेंडिंग जोन का डिजाइन तैयार करना
  • वेंडिंग क्षेत्र को विकसित करना
  • शौचालय, स्वच्छता की सुविधा देना
  • व्यावसायियों को पहचानपत्र जारी करना

यहां बनेंगे जोन

  • ऊंचापुल
  • कॉलटैक्स
  • तिकोनिया वर्कशॉप लाइन
  • काठगोदाम 
  • डिग्री कॉलेज के पीछे 
  • ठंडी सड़क

शहर में 2814 ठेला व्यवसायी

वर्ष 2014-15 के सर्वे के मुताबिक हल्द्वानी शहर में 2814 ठेला-फड़ व्यवसायी हैं। इसके बाद नए सिरे से सर्वे नहीं हुआ। सूत्रों की मानें तो वर्तमान में इनकी संख्या तीन से साढ़े तीन हजार के बीच होने का अनुमान है। ऐसे में इतनी संख्या में व्यावसायियों को बसाने के लिए 50 से 80 वेंडिंग जोन की जरूरत होगी। 

Posted By: Skand Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप