जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : सब्जियां सस्ती होने से लोगों को राहत मिली है। ठंड बढऩे के साथ ही सब्जियों के रेट कम होने लगे हैं। विक्रेताओं का कहना है कि बारिश के दौरान खराब हुई फसल से किसान उबरने लगे हैं। जिसमें नई फसल फिर से तैयार हो गई है। जहां से उपज भी मिलने लगी है। नई आलू अब 20 रुपये किलो के भाव बाजार में बिकने लगी है। जबकि प्याज 35 रुपये के भाव बाजार में है। फूलगोभी व पत्ता गोभी भी बाजार में 20 रुपये किलो के भाव बिक रही है। लौकी और कद्दू बाजार में 30 रुपये किलो तक हैं। इसी तरह गाजर, मूली व बैगन भी 30 रुपये में बाजार में उपलब्ध हैं। पहाड़ी मूला व गडेरी व खीरा बाजार में 40 रुपये किलो के भाव हैं।

मटर व बीन्स का नहीं मिला विकल्प

मटर व बीन्स के भाव बाजार में कम होने के आसार नहीं दिख रहे हैं। नवंबर का महीना करीब बीत चुका है। इसके बाद भी मटर का दाम कम होता नजर नहीं आ रहा है। बाजार में मटर 80 से 90 रुपये प्रति किलो के भाव बिक रही है। जबकि स्थानीय स्तर पर टमाटर की फसल तैयार होने के बाद बाजार डाउन हुआ है। जिसे 50 से 60 रुपये किलो के भाव बेचा जा रहा है।

गिरने वाले हैं सब्जियों के भाव

छोटे साइज के टमाटर 40 रुपये किलो के भाव बाजार में मिल जा रहे हैं। हरी मिर्च 50 रुपये किलो बाजार में है। आफ सीजन के चलते भिंडी बाजार में 50 से 60 रुपये किलो बिक रही है। बीन्स का भाव भी लंबे समय से कम नहीं हो रहा है। जिसे बाजार में 70 से 80 रुपये किलो तक बेचा जा रहा है। व्यापारियों का कहना है कि आने वाले दिनों में सब्जी के भाव तेजी से कम होंगे।

Edited By: Skand Shukla