जागरण संवाददाता, हल्द्वानी: कृष्णा अस्पताल के आइसीयू की खिड़की का शीशा तोड़कर एक मरीज ने छज्जे पर आकर खुदकुशी का प्रयास किया। सूचना पर पर पहुंची पुलिस व दमकल विभाग की टीम ने मरीज को काबू में किया। उसे काबू में करने पर दमकल विभाग का एक सिपाही घायल हो गया। एक घण्टे चले हाईवोल्टेज ड्रामे में मरीज ने कांच के शीशे से खुद को ही जख्मी कर दिया।

पुलिस के अनुसार टीनशेड दमुवाढूंगा निवासी 50 वर्षीय राजेश आर्य पुत्र नन्द लाल 22 मई को अस्पताल में भर्ती हुआ था। शरीर में खून की कमी होने के कारण उसे भर्ती कराया गया था। मंगलवार को उसे डिस्चार्ज होना था।

इससे एक घंटा पहले ही मरीज आइसीयू की खिड़की तोड़कर छज्जे पर आ गया और खुदकुशी का प्रयास किया। मरीज के खिड़की तोड़कर बाहर आते ही अस्पताल प्रशासन में हड़कंप मच गया। इसकी सूचना पुलिस को दी गई।सूचना पर पुलिस व दमकल विभाग की टीम मौके पर पहुंची। एक घंटे के बाद मरीज को बमुश्किल काबू किया। मरीज ने अपने शरीर पर कई वार कर खुद को जख्मी कर लिया। साथ ही सिपाही भी घायल हो गया। पुलिस के अनुसार युवक ने यह कदम क्यों उठाया इसका पता नहीं चल सका है। 

मामले की जांच की जा रही है। इस दौरान मौके पर एसआई रमेश बोरा, भोटियापड़ाव चौकी इंचार्ज प्रकाश पोखरिया, एसआई रविन्द्र राणा आदि मौजूद रहे।

Edited By: Prashant Mishra