जागरण संवाददाता, भीमताल : भीमताल में पैराग्लाइडिेंग के दुर्घटनाग्रस्त हो जान से महिला पर्यटक और उसका पायलट पेड़ मे लटक गये। घटना में कोई घायल नहीं हुआ। पर पेड़ से फंसी महिला और उसके पायलट को निकालने के लिये पुलिस और स्थानीय लोंगों को काफी मशक्कत करनी पड़ी।

मामला दोपहर दो बजे का है। मुंबई निवासी महिला पर्यटक कुनाल अपने पति रोबिल के साथ पैराग्लाइडिंग साइट पहुंची। कुनाल को पायलट जैसे ही ले कर उड़ा ठीक उसी समय तेज हवा चलने के कारण पैराशूट लैंडिंग के समीप पेड़ में अटक गया। महिला पर्यटक समेत पायलट पेड़ में फंस गये। पैराग्लाइडिंग साइट में तैनात तकनीकी कर्मचारियों ने घटना स्थल की तरफ दौड़ लगा दी। इस बीच किसी ने मामले की जानकारी थाने को दे दी। थाने में तैनात सुमित चौधरी मौके पर पहुंचे और फिर इसके बाद बचाव अभियान प्रारंभ हुआ। बीस मिनट के बाद पुलिस, पैराग्लाइडिंग कंपनी के कर्मचारी व स्थानीय लोंगों की मदद से दोनों को सुरक्षित पेड़ से उतार लिया गया। पर्यटक दंपति के द्वारा किसी भी प्रकार की शिकायत दर्ज कराने से मना कर दिया। मामले में किसी भी प्रकार की रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई है।

भीमताल मेें लगातार घट रही पैराग्लाइडिंग के दुर्घटना ने एक बार फिर से कारोबारियों और हवा में खेल करतब का शौक रखने वालों को चिंता में डाल दिया है। दरअसल इन दिनों मौसम का मिजाज पल भर में बदल रहा है। कभी धूप तो पल भर में तेज हवा चल रही है। ऐसे में पैराग्लाइडिंग में निपुण पायलट भी धोखा खा रहे है। वैसे हर साइट में हवा का रूख बताने के लिये एक झंडा लगा रहता है। लेकिन हवा में पैराग्लाइडर के होने पर अचानक मौसम का मिजाज इस प्रकार की घटना को अंजाम देता है। जानकारों के मुताबिक पैराग्लाइडिंग करने वालों को मौसम के ठीक होने पर ही सुरक्षित साइटों से ही पैराग्लाइडिंग करनी चाहिये।

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें