जागरण संवाददाता, नैनीताल। आने वाले दिनों में कई छुट्टियां पड़ने वाली हैं। ऐसे में यदि आप कहीं अपने जेब पर बहुत भार न डालना चाहते हों और बढ़िया तरीके से हालीडे मनाना चाह रहे हों तो नैनीताल सबसे किफायती टूरिस्ट प्लेस रहेगा। फिर देर किस बात की, हल्के गर्म कपड़े व जरूरत के सामान रखिए, बैग पैक कर निकल पड़िए तालो में नैनीताल की सैर करने...

सरोवरनगरी नैनीताल में नवरात्र व दशहरा पर्व के चलते अगले कुछ दिनों तक बंपर सीजन को देखते हुए यहां होटल समेत अन्य पर्यटन कारोबारी उत्साहित हैं। कुमाऊं मंडल विकास निगम सूत्रों मुताबिक नैनीताल के सूखाताल, तल्लीताल टीआसी समेत मुक्तेश्वर, बिनसर, रानीखेत, कौसानी तथा नौकुचियाताल गेस्ट हाउस18 अक्टूबर तक पैक हो चुके हैं। इधर संभावित भीड़ व वाहनों को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने ट्रैफिक प्लान तैयार किया है। क्षमता से अधिक पर्यटकों के आने पर नारायणनगर व रूसी बाईपास से उन्हीं पर्यटकों को शहर में एंट्री मिलेगा, जिनकी होटलों में एडवांस बुकिंग होगी।कोविड केस कम होने के बाद नैनीताल में दो साल बाद ऑटम सीजन चल पड़ा है।

दो अक्टूबर को भी यहां भारी भीड़ उमड़ी थी, तब तमाम पर्यटकों को कमरा नहीं मिलने पर भीमताल समेत अन्य पर्यटन स्थलों की ओर जाना पड़ा। गुरुवार से महानवमी, फिर दशमी तथा इसके बाद वीकेंड में फिर भीड़ उमडऩा तय है। दशमी को शादियों की वजह से भी होटलों की बुकिंग हुई है। करीब आधा दर्जन होटल शादियों के लिए बुक हैं। शहर में करीब 500 छोटे-बड़े होटल व गेस्ट हाउस हैं। कुमाऊं मंडल विकास निगम के केंद्रीय आरक्षण केंद्र्र प्रभारी कीर्ति मुरारी के अनुसार निगम के कई गेस्ट हाउस 18 अक्टूबर तक पैक हो चुके हैं। 

रामगढ़ व मुक्तेश्वर भी हैं विकल्प

पर्यटकों के लिए यहां नैना देवी बर्ड रिजर्व के अंतर्गत किलबरी, पंगोट, घुग्घूखान, कुंजखड़क, विनायक भी विकल्प हैं। क्षेत्र में 20 से अधिक अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त रिजॉर्ट हैं। प्राकृतिक रूप से खूबसूरत इस क्षेत्र में बर्ड वॉचिंग के साथ ही ट्रेकिंग की जा सकती हैं। किलबरी में वन विभाग ने जलाशय तैयार करने के साथ ही आसपास सुंदरीकरण किया है। उधर रामगढ़ व मुक्तेश्वर का भी प्लान बनाया जा सकता है। रामगढ़ व मुक्तेश्वर में 200 से अधिक होटल, रिजॉर्ट के साथ होम स्टे सुविधा है। यहां से हिमालय का खूबसूरत दृश्य नजर आता है। भवाली, घोड़ाखाल मंदिर, टी गार्डन, चोली की जाली की भी सैर की जा सकती है। साथ ही शिव महादेव मंदिर तक क्लाइंबिंग तथा कैंची धाम के दर्शन किए जा सकते हैं। 

सीओ नैनीताल संदीप सिंह ने बताया कि नैनीताल में भीड़ बढ़ने पर पुलिस ने चरणबद्ध प्लान बनाया है। भीड़ बढ़ने पर नारायण नगर व रूसी बाईपास से शटल सेवा शुरू की जाएगी, यदि ज्यादा भीड़ बढ़ी तो दोनों स्थानों से उन्हीं पर्यटक वाहनों को अनुमति होगी, जिसकी होटलों में बुकिंग होगी।  नैनीताल की क्षमता से अधिक वाहनों को शहर नहीं भेजा जाएगा। कोविड गाइडलाइंस के अनुपालन को लेकर रैंडम चेकिंग की जाएगी।

Edited By: Prashant Mishra