Move to Jagran APP

Nainital Hotel Booking: नैनीताल में 50 प्रतिशत से अधिक होटलों में एडवांस बुकिंग, पर्यटन काारोबार में भारी बूम

Nainital Hotel Booking नैनीताल सहित आसपास के पर्यटक स्थलों में अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त होटलों में छह जून तक 70 प्रतिशत जबकि मध्यम व छोटे होटलों में 30 से 40 प्रतिशत एडवांस बुकिंग हो चुकी है। सीजन में होटल रेस्टोरेंट सहित गेस्ट हाउस होम स्टे में पांच हजार से अधिक लोगों को सीजनल रोजगार मिला है जबकि कारोबार में बूम आ गया है।

By kishore joshi Edited By: Nirmala Bohra Fri, 31 May 2024 03:10 PM (IST)
Nainital Hotel Booking: पर्यटकों ने सुकून के लिए पहाड़ों की ओर कदम बढ़ा दिए हैं।

जागरण संवाददाता, नैनीताल: Nainital Hotel Booking: दिल्ली, राजस्थान, मध्यप्रदेश समेत तमाम राज्यों में पारा चढ़ने के साथ ही पर्यटकों ने सुकून के लिए पहाड़ों की ओर कदम बढ़ा दिए हैं। नैनीताल सहित आसपास के पर्यटक स्थलों में अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त होटलों में छह जून तक 70 प्रतिशत जबकि मध्यम व छोटे होटलों में 30 से 40 प्रतिशत एडवांस बुकिंग हो चुकी है।

होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष दिग्विजय बिष्ट व महासचिव वेद साह के अनुसार इस बार के सीजन में दिल्ली, एनसीआर, हरियाणा सहित उत्तरप्रदेश, राजस्थान के साथ ही गुजरात, महाराष्ट्र के पर्यटकों की आमद अधिक है। नैनीताल के साथ ज्योलीकोट, किलबरी, पंगोट, मंगोली व आसपास के करीब एक हजार होटल-गेस्ट हाउस हैं।

सीजन में होटल, रेस्टोरेंट सहित गेस्ट हाउस, होम स्टे में पांच हजार से अधिक लोगों को सीजनल रोजगार मिला है जबकि कारोबार में बूम आ गया है। होटल एसोसिएशन के अनुसार पुलिस की सख्ती, डायवर्जन प्लान आदि की वजह से कारोबार पर विपरीत असर पड़ने के साथ ही पर्यटन स्थलों की छवि खराब हो रही है। गुरुवार को भी बड़ी संख्या में पर्यटक नैनीताल सहित आसपास के इलाकों में सैरसपाटे को पहुंचे।

वीवीआइपी दौरे से सरोवर नगरी के पर्यटन पर पड़ा असर

नैनीताल में गुरुवार को सैलानियों की आमद सामान्य बनी रही। आसपास के पर्यटन स्थलों में भी पर्यटकों के आवागमन से रौनक बरकरार रही और यातायात व्यवस्था भी सामान्य नजर आई। सरोवरनगरी नैनीताल का पर्यटन सीजन अमूमन 15 मई से पीक पर पहुंच जाता है।

इस बार गत वर्षों की तुलना में सैलानियों की संख्या कहीं अधिक रही। एक दिवसीय भ्रमण पर आने सैलानियों की संख्या में भी पिछले वर्षों की अपेक्षा काफी बढ़ोतरी हुई है। इसके चलते नगर की सड़कों पर वाहनों का दबाव बढ़ने लगा है। गुरुवार को यहां स्नोव्यू, राजभवन, चिड़ियाघर, हिमालय दर्शन व केव गार्डन में पर्यटकों की काफी भीड़ रही। शाम के समय कई सैलानी हनुमानगढ़ी में सूर्यास्त देखने पहुंचे।

जबकि दिन में नैनी झील में नौका विहार करने वाले सैलानियों का तांता लगा रहा और पंत पार्क समेत भोटिया बाजार में भी सैलानियों की भीड़ भाड़ रही। पर्यटन कारोबारियों के अनुसार गुरुवार को कैंची धाम में वीवीआइपी कार्यक्रम की वजह से कई घंटों तक यातायात बंद रहने से इसका असर पर्यटन गतिविधियों पर पड़ा।

झील में डुबकी लगाने पर दो पर्यटकों का चालान

नोएडा के दो पर्यटकों को गर्मी से राहत पाने के लिए नैनी झील में डुबकी लगाना महंगा पड़ा गया। पुलिस ने दोनों के विरुद्ध चालानी कार्रवाई की। जानकारी के मुताबिक नयना देवी मंदिर क्षेत्र में स्थित बोट स्टैंड से दो पर्यटक झील में उतर गए। लोगों के काफी मना करने के बाद भी वह झील में डुबकी लगाने लगे।

इस बीच नाव संचालकों की सूचना पर चीता कांस्टेबल वीरेंद्र गोले पालिका कर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे, तो दोनों पर्यटक झील में नहाते मिल गए। उन्हें कोतवाली ले जाया गया। एसएसआइ पीएस मेहरा ने बताया कि नोएडा निवासी मनोज व निखिल के विरुद्ध चालानी कार्रवाई की गई है।