गूलरभोज (ऊधमसिंहनगर) जेएनएन : स्थानीय और जिला पुलिस को चुनौती देते हुए कोपा ठंडा नाला के अंतरराज्यीय ठग गिरोह ने मुंबई तक को निशाना बना लिया। पिछले दो साल में ग्वालियर, जयपुर, भीलवाड़ा में ताबड़तोड वारदात के बाद गैंग ने हाल ही में नवी मुंबई को निशाना बनाया। वहां एक वृद्ध से करीब साढ़े तीन तोले सोने के जेवर ठग लिए। हरकत में आई मुंबई पुलिस ने एक ठग को दबोच लिया। तीन अन्य की धरपकड़ के लिए छापामारी की जा रही है।

नवी मुंबई के पनवेल स्थित खांडेश्वर थाने के एसआइ वैभव कुमार रोंगे ने बताया कि नौ अक्टूबर को पनवेल में एक वृद्ध से करीब साढ़े तीन तोले गहने की ठगी की गई है। केस दर्ज कर टीम ने जांच शुरू की। सर्विलांस और सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगाले गए तो लोकेशन गूलरभोज के कोपा ठंडा नाला ट्रेस हुई। शनिवार दोपहर टीम ने गिरोह के मुख्य आरोपित फिरोज को दबोच लिया। पूछताछ में उसने अपने तीन अन्य साथियों के साथ वारदात को अंजाम देने की बात कबूली। अन्य की तलाश में जब पुलिस ने गांव में दबिश दी तो वहां महिलाएं पुलिस से भिड़ गईं और आरोपितों को छुड़ाने का प्रयास कीं।

एक  सप्ताह में दो राज्यों की पुलिस को दी चुनौती

12 सितंबर 2017 को मध्य प्रदेश के ग्वालियर शहर की इंदरगंज कोतवाली क्षेत्र में एक महिला से ठगी के बाद गांव निवासी शाहिद पुलिस के हत्थे चढ़ गया। वारदात में पांच लोगों के शामिल होने की बात सामने आई थी। एक सप्ताह बाद राजस्थान के जयपुर में ठगों ने महिलाओं को निशाना बनाया। इस साल 13 जुलाई को राजस्थान के भीलवाड़ा शहर में महिलाओं से ठगी की ताबड़तोड़ तीन वारदातों को अंजाम दिया। तब ठग इलियास पुलिस के हाथ आया था।

कई राज्यों तक फैला है जाल

हरिपुरा जलाशय की डाउन स्ट्रीम में झुग्गियों में रहने वाला ठग गिरोह कई सालों से वारदात को अंजाम दे रहा है। सूत्रों के मुताबिक गिरोह में नई उम्र के करीब तीन दर्जन से ज्यादा युवा जरायम की दुनिया में पैठ बना चुके हैं। वे राज्य की दहलीज लांघ मध्य प्रदेश, राजस्थान, झारखंड, उत्तर प्रदेश व हरियाणा में अब तक दर्जनों बड़ी वारदातों को अंजाम दे चुके हैं। 

Posted By: Skand Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप