जासं, हल्द्वानी: ओखलकांडा ब्लाक के सुवाकोट-पोखरी मोटर मार्ग के निर्माण पर वन विभाग द्वारा रोक लगाने पर भीमताल विधायक राम सिंह कैड़ा ने नाराजगी जताई है। उन्होंने कहा कि तमाम औपचारिकताएं पूरी करने के बाद टेंडर करवाया गया था। ताकि लोगों को सड़क मिल सके, मगर काम शुरू होने के चार दिन बाद ही वन विभाग ने नियमों का हवाला देकर अड़ंगा लगा दिया। ऐसे में लोगों के अंदर विभाग के प्रति अंसतोष पैदा हो रहा है। वहीं, बैठक में मौजूद डीएफओ ने कहा कि पेड़ों के कटान व ढुलान का पैसा नहीं मिलने से दिक्कत आ रही है। जिसके बाद विधायक ने वन निगम के डीएलएम को फोन कर दो दिन में बजट प्रस्ताव देने को कहा।

रविवार को लोनिवि गेस्ट हाउस में आयोजित बैठक में विधायक ने कहा कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत मोटरमार्ग को स्वीकृति दिलवा एक साल पहले ही टेंडर और पेड़ों के छपान का काम पूरा करवा लिया था। क्षतिपूर्ति व वनभूमि का पैसा दिया गया, मगर दस अक्टूबर को शुरू हुआ काम चार दिन बाद ही महकमे द्वारा रुकवा दिया गया। जिस पर डीएफओ हल्द्वानी कुंदन कुमार सिंह ने कहा कि पीएमजीएसवाइ द्वारा वन निगम को भुगतान नहीं करने की वजह से यह दिक्कत आई है। वहीं, वन निगम ने दो दिन में बजट प्रस्ताव देने की बात कही। बैठक में अधीक्षण अभियंता मीना भट्ट आदि मौजूद रहे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस