बागेश्वर, जेएनएन : अवसाद ने दिल्ली में काम करने वाले एक चार्टर्ड एकाउंटेंट की जान ले ली। उसने अपने ही पैतृक घर में फांसी का फंदा लगाकर जीवनलीला खत्म कर ली। जिला अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम कर परिजनों को सौंप दिया है। बागेश्वर जिले के राजस्व पुलिस क्षेत्र वज्यूला के तहत तिलसारी गांव निवासी जगदीश सिंह उम्र 25 वर्ष पुत्र चंदन सिंह चार दिन पूर्व ही दिल्ली से अपने घर तिलसारी लौटा था। वह दिल्ली में एक निजी कंपनी में चार्टर्ड एकाउंटेंट था। अक्सर वह अवसाद में रहता था। दिल्ली से आने के बाद से वह होम क्वारंटाइन था।

बीते बुधवार की प्रातः प्रवासी युवक के पिता गायों को चराने जंगल चले गए थे। उसकी माता व भाई किसी कार्य से गागरीगोल गए थे। घर में किसी को न देखकर युवक ने घर के अंदर ही फांसी का फंदा लगाया और लटक गया। थोड़ी देर में युवक के पिता घर लौटे तो युवक को उन्होंने फांसी के फंदे पर लटका देखा। हो-हल्ला मचाने पर आसपास के ग्रामीण भी मौके पर जमा हो गए। युवक को तुरंत सीएचसी बैजनाथ लाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

 

परिजनों के अनुसार युवक कुछ समय से दिल्ली में अवसाद में रह रहा था। उसकी मां ही उसे चार दिन पूर्व दिल्ली से घर लाई थी। ग्रामीणों के अनुसार युवक काफी सीधा व सरल स्वभाव का था। युवक की मौत से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। सूचना मिलते ही राजस्व उप निरीक्षक किशोर कांडपाल बैजनाथ अस्पताल पहुंचे और शव का पंचनामा भरा। जिला अस्पताल में पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप दिया है। अंतिम संस्कार कर दिया गया है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस