रुद्रपुर, जेएनएन : रुद्रपुर कलक्ट्रेट के आवासीय परिसर के पास तेंदुआ के साथ ही बाघ दिखने के बाद 46वीं वाहिनी पीएसी और पुलिस लाइन में भी तेंदुआ दिखाए दिया। पुलिस लाइन में तेंदुए के पैरों के निशान भी मिले। इस पर वन कर्मियों के साथ ही पुलिस कर्मियों ने भी बाघ की तलाश की, लेकिन वह नहीं मिला। वन अधिकारियों के मुताबिक तेंदुए का मूवमेंट का अब तक पता नहीं चल पाया है।

तेंदुए की तलाश में सर्च ऑपरेशन

शुक्रवार शाम कलक्ट्रेट के आवासीय परिसर के पास वन विभाग के अधिकारियों को तेंदुआ होने की सूचना मिली थी। इसके बाद शनिवार और रविवार को वन विभाग ने तेंदुए की तलाश में सर्च ऑपरेशन चलाया। बताया जा रहा है कि इस दौरान वन कर्मियों को तेंदुए के साथ ही घनी झाडिय़ों में एक बाघ भी दिख गया। इसके बाद वन कर्मचारियों ने बाघ और तेंदुए की तलाश शुरू कर दी थी। साथ ही झाडिय़ों के आसपास वन कर्मियों को मुस्तैद कर मियादी कर लोगों को अलर्ट किया।

पुलिस लाइन में तेंदुए के पैरों के निशान मिले

इधर, रविवार देर रात और सोमवार तड़के लोगों ने वन अधिकारियों को तेंदुए की मूवमेंट पुलिस लाइन और 46वीं वाहिनी पीएसी में होने की जानकारी दी। इस पर वन कर्मचारी पीएसी में पहुंचे और तलाश की। पुलिस लाइन में तेंदुए के पैरों के निशान मिले। इसके बाद वन कर्मचारियों के साथ एसआइ डीएस नेगी ने पुलिस कर्मियों के साथ पुलिस लाइन के आसपास तेंदुए की तलाश की लेकिन नहीं मिला। डिप्टी रेंजर प्रमोद त्रिपाठी बताया कि तेंदुए और बाघ की खोजबीन की जा रही है, लेकिन उनका अब तक मूमेंट का पता नहीं चल पाया है। मूवमेंट मिलने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

कल्याणी नदी के आसपास बाघ का मूवमेंट

कलक्ट्रेट में बाघ और तेंदुए दिखने के बाद वन अधिकारी और कर्मचारी उनकी तलाश में जुट हुए हैं। तेंदुए का मूमेंट सोमवार को पुलिस लाइन और पीएसी में होने की मिली। जबकि बाघ का मवूमेंट रविवार रात को लोगों को स्टेडियम के पास मिली। ऐसे में माना जा रहा है कि बाघ स्टेडियम के पास से गुजरने वाली कल्याणी नदी के किनारे हो सकता है। इसके लिए वन विभाग की एक टीम गश्त कर रही है।

यह भी पढ़ें : एनएच 74 मुआवजा घोटाला मामले में तीन महिला समेत 14 किसानों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस