रानीखेत, जेएनएन : पर्वतीय क्षेत्रों में गुलदारों का आतंक फिर बढ़ने लगा है। राानीखेत में बाइक सवार द्वारसों के पूर्व वन पंचायत सरपंच किशन सिंह राणा पर गुलदार ने घात लगाकर हमला कर दिया। उसके हमले में पूर्व सरपंच किसी तरह से बाल-बाल बचे। इधर ग्रामीणों ने प्रभावित क्षेत्र में पिंजड़ा लगा गुलदार को पकड़ने की मांग वन विभाग के अधिकारियों से की है।

 

मामला अल्मोड़ा घिंघारीखाल हाईवे पर द्वारसों के समीप खौड़ी गांव को जाने वाली सड़क का है। पेशे से फोटोग्राफर किशन सिंह अपने साथी प्रदीप के साथ मजखाली में बारात निपटा कर अपनी बाइक यूके 01सी 3451 से घर को लौट रहे थे। द्वारसों गावं के निकट पहुंचे ही थे कि घात लगाए गुलदार ने बाइक पर हमला कर दिया। पंजे से वार करने के बाद किशन के बाएं पांव में चार दांत गढ़ा दिए। शोर मचाने पर गुलदार जंगल की ओर निकल गया।

 

बता दें कि इससे पूर्व भी गुलदार कई बाइक सवारों पर हमला कर चुका है। गुलदार के हमले से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है। वन पंचायत सरपंच राजेन्द्र सिंह राणा, प्रधान धना देवी, पूरन सिंह राणा, राजेन्द्र सिंह, भूपाल सिंह आदि ग्रामीणों ने वन विभाग से पिंजरा लगा गुलदार के आतंक से निजात दिलाने की मांग उठाई है। इधर सूचना पर वन कर्मी राजेन्द्र प्रसाद ने घायल के घर जाकर हाल जाना।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप