जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : प्रदेश अध्यक्ष समेत पार्टी के 150 वरिष्ठ लोगों पर मुकदमा दर्ज करने से कांग्रेस भड़क चुकी है। नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा हृदयेश ने कहा कि जनता की आवाज उठाने वाले विपक्ष पर मुकदमा दर्ज कर सरकार तानाशाही का परिचय दे रही है। इंदिरा ने कहा कि सरकार मुकदमों से उन्हें डरा नहीं पाएगी। कोविड-19 के खिलाफ जंग में विपक्ष के पूर्ण सहयोग करने के बावजूद सरकार का ऐसा व्यवहार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। मुकदमे वापस नहीं होने पर प्रदेश भर में आंदोलन को बाध्य होना पड़ेगा।

नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा हृदयेश ने कहा कि बेरोजगारी, मंहगाई और लॉकडाउन की वजह से पैदा हुए आर्थिक संकट को सरकार दूर न कर सकी। विपक्षी होने के नाते जब कांग्रेस ने जनता की आवाज बनकर उनकी पीड़ा सुनानी चाही तो मुकदमा दर्ज उत्पीड़न का प्रयास शुरू कर दिया गया। इंदिरा ने साफ कहा कि सरकारी नीतियों का विरोध करने पर अगर कार्यकर्ताओं का पुलिसिया दम पर दमन किया गया तो कांग्रेस चुप नहंी बैठेगी।

------------

हर कांग्रेसी जेल जाने को तैयार : बल्यूटिया

कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता दीपक बल्यूटिया ने कहा कि लोकतांत्रिक व्यवस्थाओं का दमन कर देश में अघोषित इमरजेंसी के हालात कर दिए गए हैं। अंधी व बहरी हो चुकी सरकार को मंहगाई व बेरोजगारी नजर नहीं आ रही। मुख्यमंत्री व मंत्रिमंडल के सदस्य राजनीतिक सभाएं कर शारीरिक दूरी व अन्य नियमों की धज्जियां उड़ाते हैं, लेकिन विपक्ष ने जब जनता का दर्द बताने की कोशिश की तो मुकदमा दर्ज कर डराया जा रहा है। दीपक ने कहा कि विपक्ष लोगों की आवाज उठाता रहेगा। इसके लिए कांग्रेसी जेल जाने को भी तैयार है।

---

प्रदेश सरकार का पुतला फूंका

महानगर अध्यक्ष राहुल छिमवाल के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने नारेबाजी करते हुए सरकार का पुतला फूंका। कहा कि लॉकडाउन के बाद से लोगों को आर्थिक संकट का सामना करना पड़ रहा है। हर चीज के दाम बढ़ाए जा रहे हैं। मात्र विपक्ष को कुचलने के लिए षडयंत्र के तहत प्रदेश अध्यक्ष व अन्य पर मुकदमा दर्ज किया गया। पुतला फूंकने वालों में युकां प्रदेश उपाध्यक्ष गुरपीत सिंह प्रिंस, जिलाध्यक्ष गजेंद्र गौनिया, जीवन तिवारी, आशीष कुड़ई, हर्षित जोशी, विक्की नरूला शामिल रहे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस