काशीपुर, जेएनएन : काशीपुर में कुलदीप की हत्या का राज खुल गया है। मामला त्रिकाेणीय प्रेम संबंध का है। उसकी प्रेमिका ने ही अपने दूसरे प्रेमी के साथ मिलकर कुलदीप की अत्या की थी। पुलिस ने मृतक की प्रेमिका और उसके दूसरे प्रेमी की निशानदेही पर कुलदीप का मोबाइल बरामद कर लिया है। दोनों आरोपितों ने कुलदीप की हत्या की बात स्वीकार कर ली है। मामले में पुलिस ने दोनों पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है।

बरखेड़ी निवासी कुलदीप सिंह पुत्र गुरजीत सिंह ठाकुरद्वारा में वी गाॅर्ड कंपनी में काम करता था। 29 जून की रात करीब 9 बजे वह घर से टहलने के लिए निकला था। इसके बाद रहस्यमय तरीके से गायब हो गया। मामले में परिवार की तरफ से पैगा चौकी में उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। चार दिन बाद गुरुवार को गांव के बरातघर से 200 मीटर की दूरी पर एक नाले से कुलदीप का सड़ा गला शव बरामद हो गया।

 

सुखविंदर के लिए कुलदीप को रास्ते से हटाना चाहता था अली

कुलदीप व सुखविदंर के बीच प्रेम संबंध पिछले कई सालों से चल रहा था। बीकॉम करने के बाद वह राजस्थान में काम करता था। इस दौरान भी प्रेम परवान चढ़ा लेकिन इसी बीच गांव के युवक अली को यह संबंध खटकने लगा था। कुलदीप इसके बाद अपने गांव लौट आया, लेकिन उसे इल्म न था उसके पीछे साजिश रची जा रही है। अली कुलदीप के बारे में उसकी प्रेमिका को भड़काने लगा। शुरुआत में वह कुलदीप के बातों पर विश्वास नहीं करती थी। लेकिन बाद में वाे उसके बातों में फंसती गई। उसने कहा कि कुलदीप का किसी अन्य लड़के से संबंध है। इधर कुलदीप फैक्ट्री में काम के चलते व्यस्त रहने लगा और अली को इस दौरान उसे भड़काने का पूरा मौका मिलता गया।

 

फोन के जरिये बुलाकर उतारा मौत के घाट

कुलदीप को इस बात का जरा भी आभास नहीं था कि जिसके साथ वह अपनी पूरी जिंदगी बिताना चाहता है वही नए आशिक के साथ उसे मारने के लिए साजिश रच रही है। दोपहर फैक्ट्री में कई दफा सुखविंदर ने कुलदीप से मिलने के लिए फोन किया, लेकिन उसने बोला कि वह आकर मिलेगा। इस दौरान उसके पर तकरीबन 13 बार सुखविंदर का फोन किया। देर रात खाना खाने के बाद वह टहलता हुआ सुखविंदर से मिलने पहुंचा वहां पहले से घात लगाकर बैठे अली ने उसे पर हमला कर दिया और सुखविंदर के साथ गला दबाकर उसे मौत के घाट उतार दिया। मौत तस्दीक करने के बाद इन दोनों ने उसे गांव के एक नाले में फेंक दिया। दो सदस्यीय पैनल डाॅ. शांतनु सारस्वत और डाॅ. केपी सिंह ने शव का पोस्टमार्टम किया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में उसकी मौत गला दबाने से बताई जा रही है। जहर की पुष्टि के लिए बिसरा जांच के लिए सुरक्षित रखा गया है।

 

सुखविंदर व अली गिरफ्तार

परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने सुखविंदर कौर और अली को हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने बलजीत के खेत से मृतक का मोबाइल भी बरामद कर लिया है। कोतवाल काशीपुर चंद्रमोहन सिंह ने बताया कि मृतक के ताऊ बूटा सिंह की तहरीर पर बड़ी बरखेड़ी निवासी सुखविंदर कौर उर्फ बबली और उसके प्रेमी अली हुसैन उर्फ अलिया के खिलाफ 302, 201 के तहत केस दर्ज किया गया है।

दोस्तों संग टहलने निकले युवक का शव नाले से बरामद, परिजनों का आरोप प्रेम संबंध में की गई हत्या 

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस