बाजपुर (ऊधमसिंह नगर) जेएनएन : स्वास्थ्य व राजस्व विभाग की संयुक्त टीम ने मंगलवार को रामपुर रोड स्थित निजी अस्पतालों में छापेमारी की। अनियमितता मिलने पर बांबे व अपोलो अस्पताल को सील कर दिया।  उत्तर प्रदेश के रामपुर निवासी शाहिद हुसैन अंसारी ने दोराहा-बाजपुर में रामपुर रोड स्थित बांबे, अपोलो व सिंह हॉस्पिटल में अनियमितता का आरोप लगाकर जांच की मांग की थी। इसके लिए उसने मुख्यमंत्री पोर्टल पर भी शिकायत दर्ज कराई। मुख्यमंत्री कार्यालय ने संज्ञान लेकर सीएमओ से जांच रिपोर्ट तलब कर ली।

मंगलवार को सीएमएस डॉ. खेमपाल सिंह व तहसीलदार जोगा सिंह की संयुक्त टीम ने पहले बांबे हॉस्पिटल में छापेमारी की। टीम के पहुंचते ही वहां मौजूद स्टाफ में भगदड़ मच गई। मरीज भी हट गए। तमाम अनियमितताएं मिलने पर हॉस्पिटल को सील कर दिया गया। इसके बाद टीम अपोलो हॉस्पिटल पहुंची। वहां अस्पताल संचालित नहीं मिला। हालांकि आईसीयू का पूरा सिस्टम लगा हुआ था। पूछताछ में बिल्डिंग की रखवाली कर रहे एक युवक ने बताया कि कुछ दिन पहले ही बिल्डिंग को खाली कर डॉक्टर यहां से चले गए हैं। ऐसे में टीम ने उसे भी सील कर दिया। सिंह हॉस्पिटल के बारे में बताया गया कि वह करीब एक माह पूर्व ही बंद हो चुका है।

काम नहीं आया राजनीतिक दबाव

बांबे हॉस्पिटल में कार्रवाई के दौरान कुछ देर बाद वहां दो से तीन युवक पहुंच गए। उनमें से एक ने खुद को हॉस्पिटल का संचालक बताते हुए रजिस्ट्रेशन के कागजात दिखाए। लेकिन टीम ने जब किसी भी डॉक्टर के मौके पर मौजूद नहीं होने के बारे में पूछा तो वह संतोषजनक जवाब नहीं दे पाया। संचालक ने एक अन्य राजनीतिक व्यक्ति के माध्यम से टीम पर दबाव बनाने का प्रयास किया। लेकिन कुछ असर नहीं हुआ।

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस