रामनगर, जेएनएन : निकाह के 18 साल बाद एक व्यक्ति ने बेटी पैदा नहीं होने पर पत्नी को तलाक देकर घर से निकाल दिया। पीडि़ता ने महिला आयोग की पूर्व उपाध्यक्ष अमिता लोहनी से मुलाकात कर मदद की गुहार लगाई। 

ग्राम सावल्दे पश्चिम निवासी फूलजहां ने लिखित शिकायत देते हुए बताया कि उसका निकाह 18 साल पहले उप्र के जिला मुरादाबाद में ग्राम शरीफ नगर ठाकुरद्वारा निवासी अयूब से हुआ था। शादी के बाद उसकी चार बेटियां पैदा हुई। बेटी पैदा होने से पति नाराज रहने लगा। 2016 में वह बेटे की चाह में दूसरी महिला को पत्नी बनाकर घर ले आया। तब से वह दूसरी पत्नी के रूप में घर में ही रहती है। इस बीच फूलजहां का बेटा पैदा हो गया। तब उसने दूसरी महिला को रखने का विरोध किया तो पति आए दिन उससे मारपीट करने लगा। आरोप है कि सास, देवर बहनें भी उसे घर से निकालने की धमकी देती हैं। पिछले महीने 15 जून को पति ने मारपीट की और रात में उसे तलाक दे दिया। दूसरे दिन तलाकनामा बनाकर दे दिया। तलाकनामा में एक लाख रुपये व 12 सौ वर्ग फिट का प्लाट देने की बात कही गई। इसके बाद वह बेटियां लेकर अपने मायके आकर रहने लगी। पति उसे भरण पोषण भी नही दे रहा है। वह पति के खिलाफ  कार्रवाई करना चाहती है। लोहनी ने बताया कि इस मामले की शिकायत पुलिस में की जा रही है।

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस