जागरण संवाददाता, नैनीताल: फर्जी व्हाट्सएप प्रोफाइल बनाकर रकम मांगने का मामला सामने आया है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया है। जानकारी के मुताबिक हाई कोर्ट के व्यवस्था अधिकारी जितेंद्र सिंह पोखरिया ने कोतवाली में तहरीर देकर कहा है कि दो अज्ञात नंबरों में हाई कोर्ट के उच्चाधिकारी का फोटो लगाकर उनसे और विभाग के अन्य कर्मचारियों व अधिकारियों से व्हाट्सएप कॉल कर रकम मांगी गई।

उक्त व्यक्ति ने उत्तराधिकारी के नाम से सभी कर्मचारियों को ठगा है। जिससे प्रतीत होता है कि उच्चाधिकारी की जानकारियां हेक कर चुराई गई है। हाईकोर्ट के अधिकारियों और कर्मचारियों से नाजायज मांग कर धोखाधड़ी की जा रही है। हाई कोर्ट अधिकारी की तहरीर पर कोतवाली पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ आईपीसी की धारा 420, 419 और 66डी के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की।

जांच और उक्त नंबरों को सर्विलांस में लगाने के बाद दो युवक संलिप्त पाए गए। जिनको थाने बुलाकर सख्ती से पूछताछ की गई तो उन्होंने फर्जी व्हाट्सअप प्रोफ़ाइल बनाने की बात कबूल ली। जिसके बाद पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया।

कोतवाल प्रीतम सिंह ने बताया कि मामले में मूल रूप से ग्राम लोनी, जिला रेवड़ी हरियाणा निवासी राकेश कुमार और शरीफ उल आलम निवासी धागा फेक्ट्री सवाना रोड पटियाला को गिरफ्तार कर न्यायालय पेश किया गया है।

Edited By: Prashant Mishra