संवाद सूत्र, रामनगर : सप्ताह भर पूर्व लापता हुए शख्स का शव कार्बेट टाइगर रिजर्व के जंगल में मिला है। किसी हिंसक वन्य जीव के हमले में उसकी मौत की आशंका जताई जा रही है। पुलिस व कार्बेट कर्मियों की कांबिंग के दौरान पहले उसका एक हाथ, बाद में शरीर का शेष हिस्सा मिला। वहीं घटना के बाद से क्षेत्र में दहशत का महौल है।

रामनगर कोतवाली के अंतर्गत मोहल्ला ईदगाह खताड़ी निवासी 43 वर्षीय मुस्तकीम मानसिक रूप से परेशान होकर घर से चला गया था। स्वजनों ने उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई थी। पुलिस ने उसके फोन को सर्विलांस पर लगाया तो लोकेशन सीटीआर के ढेला जंगल की मिली। इसके बाद पुलिस व ढेला रेंज के वन कर्मियों ने मंगलवार से उसे खोजने के लिए सर्च अभियान चलाया। खताड़ी पुलिस चौकी की प्रभारी प्रीति ने अपनी टीम के साथ गुरुवार सुबह भी जंगल में वन कर्मियों की मदद से तलाश की।

दोपहर में उसका एक हाथ ढेला हिल कंपार्टमेंट नंबर आठ में सर्च टीम को मिल गया। इसके बाद शाम को उसके शरीर का अन्य हिस्सा भी बरामद हो गया। चौकी इंचार्ज प्रीति के सामने मृतक के छोटे भाई मुरसलीन ने शव की शिनाख्त की। शुक्रवार को शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा। चौकी इंचार्ज ने बताया कि मृतक के शव को प्रथमदृष्टया जंगली जानवर द्वारा खाया जाना प्रतीत हो रहा है। वहीं सीटीआर के निदेशक राहुल ने बताया कि लापता व्यक्ति की मौत किस वजह से हुई है, इस बारे में अभी स्पष्ट नहीं है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही कुछ कहा जा सकेगा।

Edited By: Skand Shukla