संवाद सहयोगी, भवाली : पूर्व आईजी शैलेन्द्र प्रताप सिंह के घर में उनके केयर टेकर का शव फंदे से झूलता पाया गया। जिससे पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। सूचना पर पहुंची कोतवाली पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस प्रथम दृष्टया आत्महत्या की आशंका जता रही है। वहीं घटना को लेकर क्षेत्र में तरह तरह की चर्चाएं हैं।

रविवार को भवाली में घोड़ाखाल रोड पर स्थित रिटायर्ड आईजी के केयर टेकर अमित उम्र 21 वर्ष पुत्र गुल्लन निवासी रायबरेली का शव संदिग्ध परिस्थितियों में घर की छत से नीचे फंदे पर झूलता हुआ मिला। सुबह दूसरे केयर टेकर शिवम ने शव को फंदे से लटका हुआ देखा और तुरंत आईजी को इसकी सूचना दी। जिस पर आईजी ने पुलिस को घटना की जानकारी दी। उधर घटना की जानकारी मिलते ही पूरे क्षेत्र में हड़कंप मच गया। रिटायर्ड आईजी के घर में केयर टेकर के फंदे से झूल जाना और किसी को कानो-कान खबर न होना इस बात ने कई सवाल खड़े कर दिए हैं।

फिलहाल पुलिस ने मृतक के परिजनों को सूचित कर शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक अमित के सहयोगी केयर टेकर शिवम ने बताया कि उसने आखरी दफा अमित को रात में घर वालो से बात करते हुए देखा। जिसके बाद वह सो गया। और सुबह वह उसने अमित को फंदे में लटका हुआ देखा। रिटायर्ड आईजी शैलेन्द्र प्रताप सिंह ने बताया कि रात करीब नौ बजे अमित उन्हें खाना खिलाकर अपने कमरे में चला गया। उसके बाद सुबह वह फंदे में झूलता हुआ ही दिखा।

उन्होंने बताया कि उन्हें पता चला कि वह अपने परिजनों से काफी परेशान रहता था। लेकिन उसने कभी उनसे परेशान होने की बात नहीं कही। एसआई मनोज कुमार ने बताया कि शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। पोस्टमार्टम के बाद ही मौत के असल कारणों का पता चलेगा। प्रथम दृष्टया आत्महत्या ही प्रतीत हो रहा है।

Edited By: Skand Shukla