जागरण संवाददाता, नैनीताल : शहर के समीपवर्ती चोपड़ा ग्राम सभा में वन विभाग के पिछड़े में एक और गुलदार कैद हुआ है। विभागीय कर्मियों द्वारा गुलदार को रेस्क्यू सेंटर भेज दिया गया है। वही क्षेत्र में अभी और गुलदार होने की आशंका जताई जा रही है। जिस कारण विभाग की ओर से पिंजड़ा लगाकर गुलदार पकड़ने की कार्रवाई जारी रखी जाएगी। वही विभाग और से तैनात किए गए तो शिकारी क्षेत्र में गश्त करते रहेंगे।

बता दें कि बीते 16 नवंबर को चोपड़ा ग्राम सभा के दांगड़ तोक निवासी मोहन सिंह जीना की पांच वर्षीय बेटी राखी की गुलदार के हमले से मौत हो गई थी। जिसके बाद ग्रामीणों ने गुलदार को मारने के आदेश जारी करने के लिए भारी विरोध शुरू कर दिया था। ग्रामीणों की मांग के बाद वन विभाग ने गुलदार को आदमखोर घोषित कर मारने के आदेश जारी करने के साथ ही शिकारी नियुक्त कर दिए थे।

वहीं क्षेत्र में गुलदार को पकड़ने के लिए पिंजड़े भी लगाए गए थे। दो दिन बाद ही वन विभाग को आदमखोर गुलदार को पकड़ने में सफलता हाथ लग गई। मगर क्षेत्र में और गुलदार देखे जाने के कारण विभाग द्वारा पिजड़े नहीं हटाए गए। इधर मंगलवार सुबह  वन विभाग द्वारा सिमलखेत तोक में लगाए गए पिंजड़े में एक और गुलदार कैद हो गया। रेंजर बीएस मेहता ने बताया कि पकड़ा गया नर गुलदार की उम्र आठ वर्ष से अधिक है। जिसे रेस्क्यू सेंटर भेज दिया गया है। उच्चाधिकारियों के आदेश के बाद उसे अन्यत्र जगह छोड़ा जाएगा। बताया कि विभाग द्वारा चोपड़ा और समीपवर्ती क्षेत्र में पांच पिजड़े लगाए गए हैं। साथ ही दो शिकारी वन कर्मियों के साथ क्षेत्र में गश्त कर रहे हैं।

Edited By: Prashant Mishra