हल्द्वानी, जेएनएन : राज्य में बढ़ते पलायन, बेरोजगारी व भ्रष्टाचार पर आम आदमी पार्टी ने चिंता जतायी है। पार्टी के नेताओं व कार्यकर्ताओं की बैठक में शिक्षा पर भी चर्चा कर बदलाव की जरूरत महसूस की गयी। आम आदमी पार्टी राज्य में अपना जनाधार बढ़ाने के साथ ही आम आदमी से जुड़े मुद्दों को उठाने लगी है।

 

शुक्रवार को आम आदमी की बैठक में प्रदेश प्रवक्ता व जिला समन्वयक समित टिक्कू ने कहा कि राज्य में पलायन एक गंभीर समस्या बन चुकी है। गांव खाली होने लगे हैं। लोग रोजगार की आस में शहरों की ओर रुख कर रहे हैं। वहीं सरकार की स्वरोजगार व पर्यटन कारोबार से जुडऩे की योजनाएं कागजों तक सिमटकर रह गयी हैं। सरकार की योजनाओं का लाभ केवल चुनिंदा लोग ही उठा पा रहे हैं।

 

वास्तविक जरूरतमंदों तक योजनाएं नहीं पहुंच रही हैं। पलायन का महत्वपूर्ण कारण बेरोजगारी के साथ ही पहाड़ों पर मूलभूत सुविधाओं का अभाव हैं। हाइटेक युग में अब भी मरीजों को डोली या चारपायी में रख मीलों पैदल चलकर सड़क तक लाया जाता है। पहाड़ में जिन शहरों में अस्पताल हैं, वहां चिकित्सक नहीं हैं। अस्पतालों में लगी करोड़ों की मशीनें लगी भी हैं तो चिकित्सक व तकनीशियनों के अभाव में जंग खा रही हैं। सरकारी स्कूलों में पढ़ाई स्तरहीन है।

 

उन्होंने दिल्ली की तर्ज पर पहाड़ के स्कूलों में सकारात्मक बदलाव की जरूरत जतायी। डीएस कोटलिया ने सहभागी लोकतंत्र की बात कही। इस दौरान 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी के कार्यकर्ताओं को एकजुट रहने का आह्वान करते हुए पार्टी के सदस्यता अभियान की शुरुआत की गयी। सभी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने आगामी विधानसभा चुनाव में आप की जिताने का संकल्प भी लिया। इस दौरान आप के दीप पांडे, श्रीकांत खंडेलवाल, नरेंद्र कुमार, केडी पांडे, पुष्कर बिष्ट, हेमंत शाह, रवि जोशी, रमेश कांडपाल, नाजिम हुसैन, देवेश, महिपाल, सौरभ, राजवीर, हिमांशु आदि मौजूद रहे।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप