जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : शहर में कभी लोगों को नलकूप के मोटर की केबल खराब होने से तो कभी स्टेबलाइजर की दिक्कत से पानी की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। आलम यह है कि साढ़े चार महीने में ही 33 नलकूपों की मोटर खराब हो चुकी है।

पनियाली के नलकूप की मोटर को एक हफ्ते और चौधरी कालोनी की मोटर को खराब हुए तीन दिन हो गए हैं। ऐसे में कोई कार्यवाही न होने से नाराज चौधरी कालोनी के लोगों ने खाली बाल्टी के साथ प्रदर्शन किया।

लगातार फुंक रही मोटर

जल संस्थान के अनुसार नलकूप की मोटर के लिए 415 वोल्ट बिजली की आवश्यकता रहती है। इससे कम होने पर मोटर फुंकने का भी खतरा रहता है। जिस वजह से 22 घंटे तक चलने वाले नलकूप 10 से 12 घंटे भी नहीं चल पा रहे हैं। 

उपभोक्ता परेशान

इधर, शिकायत के बावजूद भी चौधरी कालोनी स्थित नलकूप की मोटर ठीक न होने से नाराज जगजीत सिंह रावत, महात्मा नंद गुप्ता, स्वाति गुप्ता, योगेश चंद्र जोशी, चंचला जोशी, नीला पालीवाल, नुसरत शराफत, शादाब खान, शेखर जोशी, तिलक सिंह आदि ने जल संस्थान के खिलाफ खाली बाल्टी लेकर प्रदर्शन किया।

दूसरी ओर पनियाली और बजूनियाहल्दू के लोगों ने भी आंदोलन की चेतावनी दी है।

लोगों ने साझा की परेशानी

नलकूप से बजूनियाहल्दू और पनियाली की 10 हजार आबादी को पानी को मिलता है। नलकूप को दुरुस्त करने के लिए जल संस्थान से कई बार बात की गई, लेकिन वे बजट का रोना रो रहे हैं।
- अक्षय सुयाल, बीडीसी मेंबर
क्षेत्र के लोग लंबे समय से पानी की समस्या से जूझ रहे हैं। नलकूप की अंडरग्राउंड केबल में 18 जोड़ लग चुके हैं। खराब हो चुके केबल से काम चलाया जा रहा है। जिसे बदलने की मांग की गई है।
- मनीष आर्या ग्राम प्रधान बजूनियाहल्दू
पानी की व्यवस्था करने के लिए सुबह से ही जद्दोजहद करनी पड़ रही है। जिससे घर के जरूरी कामकाज भी प्रभावित हो रहे हैं। विभाग की उदासीनता से निजी टैंकर मंगाने की नौबत आ रही है।
- शोभा मेहता, पनियाली
नलकूप की मोटर 10 से 15 दिन में फुंक जाती है। विभाग तकनीकी खामी बताकर पल्ला झाड़ रहा है। एक हफ्ते पहले मोटर फिर खराब हो गई है। केबल को जल्द बदला जाना चाहिए।
- सौरभ पांडे, पनियाली
नलकूप को खराब हुए तीन दिन हो चुके हैं, लेकिन जल संस्थान को सूचना देने के बाद भी कोई कर्मचारी मरम्मत के लिए नहीं पहुंचा। ऐसे में उनके पास धरना देने के अलावा कोई और विकल्प नहीं बचा है।
- रईस अहमद गुड्डू, पार्षद
जल संस्थान की लापरवाही से उन्हें पानी नहीं मिल रहा है। कई बार फोन करने के बाद टैंकर भेजा जा रहा है, लेकिन इससे से पर्याप्त पानी नहीं मिल पा रहा है। नलकूप की मोटर जल्द ठीक की जाए।
- भगवती देवी, चौधरी कालोनी

बोले जिम्मेदार

अधिशासी अभियंता संजय श्रीवास्तव का इस मामले में कहना है कि नलकूपों की मरम्मत को लेकर लोगों की शिकायतें सुनी जा रही हैं। जल जीवन मिशन के तहत करीब 13 नलकूपों का पुनर्गठन होना है। जिससे ये समस्याएं काफी हद तक दूर हो जाएंगी।

पनियाली और चौधरी कालोनी में नलकूपों के मरम्मत के लिए कर्मचारी भेजे जाएंगे।

Edited By: Prashant Mishra