मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

हल्द्वानी, जेएनएन : सुभाषनगर में एक घर के भीतर घुसे आठ फीट लंबे अजगर ने रेस्क्यू के दौरान फॉरेस्ट गार्ड पर हमला कर दिया। गुस्साए अजगर ने वनकर्मी के हाथ की एक अंगुली पर तीन जगह दांत मार दिए। इसके बावजूद फॉरेस्ट गार्ड ने अकेले हिम्मत दिखाते हुए उसे पकड़ लिया। फिलहाल वनकर्मी को उपचार के लिए एसटीएच में भर्ती कराया गया है।
हल्द्वानी रेंज में फॉरेस्ट गार्ड के पद पर तैनात आशुतोष उर्फ आशु को सांप पकड़ने का एक्सपर्ट माना जाता है। अब तक वह घर में घुस चुके तीन हजार सांपों को सुरक्षित पकड़ने के बाद जंगल में छोड़ चुका है। रविवार सुबह करीब 11 बजे वह सुभाषनगर में प्रवीन नामक व्यक्ति के घर सांप पकड़ने पहुंचा था। पता चला कि अदंर आठ फीट लंबा अजगर फ्रिज के पीछे छिपा है। लोगों की भीड़ जमा होने पर एक बार पुलिस भी पहुंची, लेकिन फिर लौट गई। अजगर को लोगों द्वारा छेड़ने पर वह आक्रामक हो चुका था। इस बीच जैसे ही उसे पकड़ने का प्रयास किया गया तो उसने वनकर्मी की एक अंगुली पर तीन जगह दांत गाड़ दिए। इसके बाद भी जैसे-तैसे अकेले ही फॉरेस्ट गार्ड ने उसे काबू कर बॉक्स में डाल दिया और फिर गाड़ी में साथ लेकर एसटीएच पहुंचा। सूचना पर रेंजर सावित्री गिरी व वनकर्मी वहां पहुंच गए। तबियत में सुधार होने के बावजूद संक्रमण फैलने की आशंका से वनकर्मी को डिस्चार्ज नहीं किया गया।

बगैर सुरक्षा किट के काम हल्द्वानी रेंज में
शहरी क्षेत्र में रोज 15-20 जहरीले सांप निकलने की सूचना मिलती है। जिन्हें रेस्क्यू करने का जिम्मा आशुतोष का है। एक सप्ताह पूर्व टीम ने हल्दूचौड़ से 18 फीट लंबा अजगर पकड़ा था। इसके बावजूद विभाग द्वारा इन्हें सुरक्षा किट नहीं मुहैया करवाई जाती और मजबूरन इन्हें खुद की जान खतरे में डाल लोगों के घर से सांप बाहर निकालने पड़ते हैं।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप