जागरण संवाददाता, रुड़की: जल संस्थान की ओर से बुधवार को सिविल लाइंस, पठानपुरा, शेर कोठी समेत अन्य स्थानों पर बकायेदारों के खिलाफ अभियान चलाया गया। इस दौरान बकाया चुकाने में आनाकानी करने वाले बकायेदारों के कनेक्शन काटे गए। वहीं कुछ बकायेदारों की विभाग की टीम के साथ तीखी नोकझोंक भी हुई।

इस वित्तीय वर्ष में जल संस्थान को पेयजल के बकायेदारों से सात करोड़ रुपये बकाया वसूलना है। ऐसे में विभाग ने बकाया वसूलने को लेकर कमर कसी हुई है। इसी अभियान के तहत बुधवार को अपर सहायक अभियंता जुनैद गौड़ के नेतृत्व में टीम ने सिविल लाइंस, पठानपुरा, शेर कोठी आदि स्थानों पर बकायेदारों के घर-घर दस्तक दी। टीम को देखकर बकायेदारों में हड़कंप मच गया। वहीं कुछ बकायेदार कर्मचारियों से उलझने लगे। इस दौरान बकाया चुकाने में आनाकानी करने वाले करीब छह बकायेदारों के टीम ने कनेक्शन काटे। जबकि कई बकायेदारों से कर्मचारियों ने मौके से बकाया वसूला। जल संस्थान के अपर सहायक अभियंता जुनैद गौड़ ने बताया कि बड़े बकायेदारों के खिलाफ अभियान तेज कर दिया गया है। जो बकायेदार पिछले काफी समय से कोई न कोई बहाना करके बकाया नहीं चुका रहे हैं, अब उनका कनेक्शन काटा जा रहा है। बकाया नहीं चुकाने वाले बकायेदारों के खिलाफ आगे भी सख्त कार्रवाई जारी रहेगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप