सवांद सूत्र कलियर। दरगाह पिरान कलियर के 752 वें सालाना उर्स का आगाज मेहंदी डोरी की रस्म के साथ हो गया। सज्जादा नशीं शाह मंसूर एजाज साबरी के नेतृत्व में यह रस्म अदा की गई। कोरोना संक्रमण को देखते हुए चंद लोग ही कदीमीम कोठी से मेहंदी डोरी के थाल लेकर दरगाह तक पहुंचे।

इस बार कोरोना संक्रमण के चलते तमाम तरह की गाइड लाइन जारी हैं। भीड़भाड़ पर पूरी तरह से रोक है। रस्मों में भी इस बार विशेष सावधानी बरती जा रही है ताकि भीड़ ना हो। रविवार को सालाना उर्स की मेहंदी डोरी कलियर गांव के खालिक मियां के आवास से दरगाह लाई गई। सज्जादा नशीं शाह मंसूर एजाज साबरी के नेतृत्व में मेहंदी डोरी की रस्म सादगी के साथ अदा की गई। मेहंदी डोरी को दरगाह में अर्पित करने से पहले कलाम पाक की तिलावत हुई।

सज्जादा नशीं के अलावा स्वजन अली शाह मियां, सुहैल मियां, खालिक मियां, नोमी प्रधान, यावर मियां आदि के साथ दरगाह में पहुंचे। मेहंदी डोरी को जालियों से बांधा गया। इसके बाद देश में अमन, शांति एवं कोरोना को समाप्त करने की दुआ कराई गई। पुलिस की ओर से भीड़ को रोकने के लिए पुख्ता इंतजाम किए गए थे। इसलिए यह रस्म सादगीपूर्ण ढंग से संपन्न हो गई।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस