जागरण संवाददाता, हरिद्वार। ओलिंपिक के सेमीफाइनल में भारतीय महिला हाकी टीम की हार पर खिलाड़ी वंदना कटारिया के घर के बाहर पटाखे छोड़ने पर विवाद हो गया। वंदना के परिवार की शिकायत पर पुलिस ने दो आरोपितों को हिरासत में लिया है। मामला पुरानी रंजिश से जुड़ा बताया जा रहा है। वंदना के भाई ने इस संबंध में पुलिस को तहरीर दी है। पुलिस छानबीन में जुटी है। वहीं, आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई न होने पर वंदना के परिवार ने आत्मदाह की चेतावनी दी है।

भारतीय महिला हाकी टीम ओलिंपिक में अर्जेंटीना से दो-एक से हार गई। सुबह से ही हाकी खिलाड़ी वंदना के परिवार की नजरें टीवी स्क्रीन पर लगी हुई थी। हाकी टीम की जीत के लिए दुआएं मांगी जा रही थी। टीम की हार पर वंदना का परिवार मायूस हो गया। उसी दौरान किसी ने वंदना के घर के बाहर पटाखे छोड़ दिए। वंदना के परिवार ने पड़ोसियों पर आरोप लगाते हुए पुलिस से शिकायत की। दोनों परिवारों में कहासुनी और नोकझोंक भी हुई। हंगामे की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और सुमित चौहान निवासी नवोदय नगर और अंकुर पाल निवासी रोशनाबाद को हिरासत में ले लिया है। वंदना के परिवार का आरोप है कि मजाक उड़ाकर उनका अपमान करने के लिए पटाखे छोड़े गए हैं। साथ ही उन्होंने दोनों पर जातिसूचक शब्द कहने का भी आरोप लगाया। उनका कहना है कि यह उनके परिवार का नहीं, बल्कि देश का अपमान किया गया है। वंदना की भाभी सविता ने चेतावनी दी कि आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई न हुई तो पूरा परिवार आत्मदाह करेगा। वहीं, सिडकुल थानाध्यक्ष लखपत बुटोला ने बताया कि दोनों परिवारों में काफी समय से रंजिश चली आ रही है। वंदना के भाई चंद्रशेखर ने मामले में तहरीर दी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

सेमीफाइनल में अर्जेंटीना से 2-1 से मिली हार

बता दें आज टोक्यो ओलिंपिक में भारतीय महिला हाकी टीम को सेमीफाइनल में अर्जेंटीना से 2-1 से हार मिली। अब भारतीय महिला हाकी टीम कांस्य पदक के लिए शुक्रवार को ग्रेट ब्रिटेन से भिड़ेगी। सोमवार को भारतीय टीम ने तीन बार की चैंपियन आस्ट्रेलिया को 1-0 से हराया था और पहली बार ओलिंपिक के सेमीफाइनल में प्रवेश किया था।

यह भी पढ़ें:-तीन शातिर चढ़े एसओजी के हत्थे, ATM कार्ड बदल खाली कर देते थे खाता; कुछ इस तरह देते थे घटना को अंजाम

Edited By: Sunil Negi