जागरण संवाददाता, हरिद्वार: गंगा घाटों के निरीक्षण को आ रहे हाईकोर्ट के कोर्ट कमिश्नर के पहुंचने से पहले शुक्रवार को डीएम दीपक रावत हरकी पैड़ी और आसपास के गंगा घाटों से अतिक्रमण हटाने के लिए खुद अधिकारियों के साथ मौके पर निकल पड़े। कुल 15 दुकानों को अतिक्रमण के चलते सील कर दिया। कई खोखों को भी वहां से हटा दिया गया। तिरपाल से किए अतिक्रमण को भी ढहा दिया। अतिक्रमण करने वालों पर 35 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया।

जिलाधिकारी दीपक रावत नगर आयुक्त डॉ. ललित नारायण मिश्र और सिटी मजिस्ट्रेट मनीष कुमार सिंह समेत प्रशासनिक अधिकारियों की टीम के साथ अतिक्रमण हटाने निकले। टीम ने सबसे पहले सीसीआर सभागार के निकट मैदान के पास गंगा में कपड़े धो रहे धोबी समाज के लोगों को गंगा में कपड़े न धुलने की चेतावनी देकर भगाया। चेताया कि धोबी घाटों पर ही कपड़े धोएं। पंतद्वीप पार्किंग के सामने बने पुल के नीचे गंगा में कपड़े धो रहे लोगों का सामान हटवा दिया। सीसीआर सभागार से सटे खाली ग्राउंड में खोखे, तिरपाल डालकर दुकान चलाने वालों को टीम ने हटाया। कुछ व्यापारियों ने विरोध की कोशिश की तो टीम ने उनका शांतिभंग में चालान कर दिया।

गऊघाट पुल के नीचे पक्के पिलर बनाकर रह रहे परिवारों का सामान टीम ने जब्त कर उनको वहां से भगा दिया। गऊघाट स्थित गढ़वाल हैंडलूम, सुभाष घाट स्थित पंडित रूद्राक्ष केंद्र, नाईसोता स्थित सुमित घोष की दुकान, नाईघाट स्थित श्री वैष्णव गोपाल सहित लगभग 15 दुकानों को टीम ने अतिक्रमण करने के चलते सील कर दिया। मुख्य नगर आयुक्त डॉ. ललित नारायण मिश्र ने बताया कि दुकानों को सील करने के साथ 35 हजार का जुर्माना लगाया गया है। साथ ही एक ¨क्वटल के करीब प्लास्टिक केन जब्त किया गया।

गंगा घाट पर शराब, बीड़ी, गुटखा देख भड़के डीएम

अतिक्रमण हटाने के दौरान जब जिलाधिकारी दीपक रावत टीम के साथ शिव घाट पर पहुंचे तो उनको एक खोखे से शराब की शीशी भी मिली। इस पर जिलाधिकारी भड़क उठे। क्षेत्रीय पुलिस कर्मियों के साथ ही नगर निगम के सुपरवाइजरों को भी फटकार लगाई। इसी क्रम में बीड़ी, सिगरेट, गुटखा और भारी मात्रा में प्लास्टिक की केन जब्त कर लिया। उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने का जिलाधिकारी ने निर्देश दिया। इसी क्रम में जिलाधिकारी ने हरकी पैड़ी घाट पर लगे तख्तों को भी दुकाननुमा न बनाते हुए खुले तख्त लगाने का निर्देश दिया। ज्वालापुर पंचायत से आवंटित तख्तों के लिस्ट मांगा। नगर निगम को निर्देश दिया कि फूल विक्रेताओं को आदेशित करें कि वे फूल प्रसाद की दुकानों पर गंदगी न करें। ऐसा करने वालों के आवंटन रद करने को कहा।

घाटों पर लगाया सीसी कैमरा

नगर आयुक्त ने बताया कई घाटों पर सीसीटीवी कैमरा लगाया गया है, जिसके माध्यम से गंगा घाटों पर गंदगी करने वालों की निगरानी हो सकेगी। साथ ही अतिक्रमण करने वालों का चिह्नीकरण भी हो सकेगा, जिसके आधार पर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran