जागरण संवाददाता, हरिद्वार: शटरिग का सामान चोरी होने की सूचना पर मौके पर पहुंचे चेतक पुलिसकर्मियों के साथ एक कबाड़ी ने धक्का-मुक्की कर दी। इस पर पुलिस उसे पकड़कर कोतवाली ले आई। दोनों सिपाहियों ने तहरीर देकर मारपीट का आरोप लगाया है। पुलिस एक्ट में आरोपित का चालान कर दिया गया है।

ज्वालापुर कस्साबान में कुछ दिन पहले गंगनहर किनारे एसटीपी (सीवर ट्रीटमेंट प्लांट) बनाया गया था। काम पूरा होने के बावजूद गंगनहर की तरफ लगा शटरिग खोला नहीं जा सका था। अब गंगनहर बंद होने के चलते शटरिग खोला जा रहा था। कुछ लोगों को शटरिग खोलता देख आस-पास के लोगों को चोरी का शक हुआ और उन्होंने पुलिस को सूचना दे दी। जिस पर चेतक सिपाही निर्मल और रविद्र नेगी मौके पर पहुंचे और जानकारी जुटाने लगे। शटरिग खोल रहे मजदूरों ने ठेकेदार से बात कराई और बताया कि विभाग को सूचना देकर ही शटरिग खोली जा रही है। इसी दौरान भीड़-भाड़ होने पर कस्साबान निवासी कबाड़ी सलीम भी वहां आ गया। सिपाही निर्मल और रविद्र के साथ उसकी कहासुनी हो गई। आरोप है कि सलीम ने दोनों सिपाहियों के साथ धक्का-मुक्की कर दी, जिससे वहां हंगामा हो गया। सूचना पर कोतवाली से कुछ और पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे और सलीम को पकड़कर कोतवाली ले आए। दोनों सिपाहियों ने सलीम व उसके कुछ साथियों पर धक्का-मुक्की का आरोप लगाया। वहीं, सलीम ने भी मारपीट का आरोप लगाया। ज्वालापुर कोतवाल योगेश सिंह देव ने बताया कि आरोपित का पुलिस एक्ट में चालान कर दिया गया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप