जागरण संवाददाता, हरिद्वार। Haridwar Kumbh Mela 2021 कुंभ के आखिरी शाही स्नान पर कोविड गाइडलाइन का कड़ाई से पालन हुआ। अखाड़ों के साधु संत से लेकर व्यवस्थाओं में जुटे कार्मिक मास्क और फेस शील्ड आदि लगाए थे। अखाड़ों के स्नान से पहले और उसके बाद हरकी पैड़ी और आसपास के गंगा घाटों पर डुबकी लगाने पहुंचे श्रद्धालुओं में अधिकांश मास्क लगाए थे। 

कुंभ के आखिरी शाही स्नान पर स्वास्थ्य विभाग की ओर से सभी बॉर्डर, मेला क्षेत्र, रेलवे स्टेशन, रोडवेज स्टेशन पर श्रद्धालुओं और यात्रियों की स्वास्थ्य जांच को 28 टीम लगाई गई थी। शाम तक टीम ने 10422 के सैंपल लिए। इनमें 7831 की रैपिड एंटीजन और 2591 की आरटीपीसीआर जांच हुई। एंटीजन जांच में 101 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। 

कुंभ के पहले और मुख्य शाही स्नान पर श्रद्धालुओं की भीड़ के चलते कोविड जांच स्वास्थ्य विभाग के लिए बड़ी चुनौती थी। 14 अप्रैल के मुख्य शाही स्नान के बाद कोरोना के बढ़ते मामलों ने स्वास्थ्य विभाग और मेला अधिष्ठान की पेशानी पर बल डाल दिया था। सीएमओ डॉ. एसके के झा ने बताया कि बॉर्डर पर पॉजिटिव आए यात्रियों को लौटा दिया गया। वहीं रेलवे स्टेशन, मेला क्षेत्र आदि स्थानों पर मिले पॉजिटिव को होम आइसोलेशन और कोविड केयर सेंटर (सीसीसी) में भर्ती कराया गया है।  कोविड के बढ़ते मामले को देखते हुए सतर्कता बरती जा रही है। आखिरी शाही स्नान पर भीड़ न होने के चलते थोड़ी राहत रही। 

पुलिस ने बगैर मास्क के काटे 166 के चालान

श्यामपुर पुलिस ने कोविड-19 महामारी का उल्लंघन करने पर 166 व्यक्तियों का मास्क न पहनने पर चालान काटा। साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का नियम का पालन करने के लिए जागरूक भी किया। कोरोना संक्त्रमण के बढ़ते कहर को रोकने के लिए पुलिस कोविड-19 के नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने में जुट गई है। पुलिस पहले से ही सोशल डिस्टेंसिंग का नियम पालन करने और मास्क लगाने के लिए जागरूक कर रही है।

बावजूद इसके तमाम अब भी नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं। मंगलवार को श्यामपुर पुलिस ने पूरे थाना क्षेत्र में बगैर मास्क के वाहन चला रहे और पैदल घूम रहे 166 व्यक्तियों को पकड़ा, उन्हें सार्वजनिक फटकार लगायी और 83 हजार जुर्माना वसूला। प्रभारी थाना अध्यक्ष रघुवीर सिंह रावत ने बताया कि कोरोना महामारी के नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा रही है। साथ ही लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का नियम का पालन करने के लिए भी जागरुक कर रही है।

यह भी पढ़ें-बैरागी अणियों ने की अखाड़ा परिषद से अलग होने की घोषणा, भारतीय वैष्ण अखाड़ा परिषद का किया गठन

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021