मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

हरिद्वार, जेएनएन। पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली की अस्थियां सोमवार दोपहर हरकी पैड़ी ब्रह्मकुंड पर विसर्जित की गईं। उनके पुत्र रोहन जेटली ने विधि विधान के साथ गंगा में अस्थियां विसर्जित की। तीर्थ पुरोहित पंडित देवेंद्र कुमार शर्मा और पंडित अभिषेक कुमार शर्मा ने कर्मकांड कराया। इस दौरान प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत समेत कई कैबिनेट मंत्री भी मौजूद रहे। 

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का शनिवार दोपहर निधन हो गया था। रविवार को दिल्ली के निगम बोध घाट पर पूरे राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया था। सोमवार को उनके पुत्र रोहन जेटली कुछ रिश्तेदारों के साथ अस्थियां लेकर हरिद्वार पहुंचे। हरकी पैड़ी ब्रह्मकुंड पर पूर्ण विधि विधान के साथ अस्थियां विसर्जित की गई। 

उनके तीर्थ पुरोहित पंडित देवेंद्र कुमार शर्मा और पंडित अभिषेक कुमार शर्मा ने पूर्ण विधि विधान के साथ कर्मकांड कराया। सभी ने पूर्व वित्त मंत्री के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें नमन किया। अस्थि विसर्जन उपरांत रोहन ने हरकी पैड़ी की प्रबंधकारिणी संस्था श्री गंगा सभा का कार्यालय पहुंच तीर्थ पुरोहित की बही में दर्ज कराया। इस दौरान प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक, कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक, विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल, उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत, योगगुरु बाबा रामदेव, दक्षिण काली पीठाधीश्वर स्वामी कैलाशानंद ब्रह्मचारी, शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे, पूर्व गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद, वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा, हरिद्वार ग्रामीण विधायक स्वामी यतीश्वरानंद, ज्वालापुर विधायक सुरेश राठौर, रानीपुर विधायक आदेश चौहान, ओपी जमदग्नि, पूर्व विधायक सुरेशचंद जैन आदि मौजूद रहे। 

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड के वित्तमंत्री प्रकाश पंत का निधन, तीन दिन का राजकीय शोक घोषित

बता दें कि बीते रोज दिल्‍ली में भाजपा के कद्दावर नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली पंचतत्व में विलीन हो गए। राजकीय सम्मानपूर्वक निगम बोध घाट पर उनकी अंत्येष्टि की गई। मुखाग्नि पुत्र रोहन जेटली ने दी। अंतिम विदाई देने के लिए सभी दलों और वर्गों के लोग पहुंचे। बारिश के बावजूद आखिर तक लोग जमे रहे।

लंबे समय से अस्वस्थ चल रहे अरुण जेटली ने 24 अगस्त 2019 (शनिवार) दोपहर अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में अंतिम सांस ली थी। रविवार सुबह उनके पार्थिव शरीर को कैलाश कॉलोनी स्थित आवास पर अंतिम दर्शन के लिए रखा गया। साढ़े नौ बजे जब पार्थिव शरीर को भाजपा मुख्यालय ले जाने के लिए घर से निकाला गया, तो लोग पैदल ही पीछे चलने लगे। 10.50 पर पार्थिव शरीर दीनदयाल उपाध्याय रोड स्थित भाजपा मुख्यालय पहुंचा, जहां हर खास व आम ने उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी। पंजाब, उत्तर प्रदेश समेत विभिन्न राज्यों से लोग पहुंचे थे। 

भाजपा नेता को विस अध्यक्ष ने दी श्रद्धांजलि

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता स्वर्गीय कृष्णमूर्ति भट्ट का पिछले दिनों निधन हो गया था। रविवार को विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल दिवंगत वरिष्ठ नेता स्वर्गीय कृष्णमूर्ति भट्ट के खड़खड़ी स्थित आवास पर पहुंचे। उन्होंने शोकाकुल परिजनों को सांत्वना दी। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि कृष्णमूर्ति भट्ट जैसे वरिष्ठ नेताओं के मेहनत के बल पर ही आज भाजपा अपना परचम लहरा रही है। इस दौरान जिला महामंत्री विकास तिवारी, मंडल अध्यक्ष वीरेंद्र तिवारी, तरुण नैयर, दीपांशु विद्यार्थी, चंद्रकांत पांडे, रवि, हरीश शर्मा आदि मौजूद रहे। 

यह भी पढ़ें: उत्‍तराखंड के पिछले विस चुनाव में जेटली ने जारी किया था घोषणापत्र

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप