Move to Jagran APP

कुंभ में फर्जी-ढोंगी बाबाओं की होगी नो एंट्री, अखाड़ा परिषद ने तैयार की सूची; जल्द किया जाएगा सार्वजनिक

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद आगामी प्रयागराज कुंभ में फर्जी व ढोंगी बाबाओं को नहीं घुसने देगी। इसके लिए परिषद ने ऐसे फर्जी व ढोंगी बाबाओं की सूची तैयार की है जिसे जल्द सार्वजनिक किया जाएगा। परिषद ने धर्म के नाम पर होने वाले पाखंड को रोकने और आमजन को जागरूक करने के लिए यह पहल की है। परिषद के अध्यक्ष श्रीमहंत रविंद्रपुरी ने बुधवार को यह जानकारी दी।

By Jagran News Edited By: Jeet Kumar Thu, 11 Jul 2024 05:45 AM (IST)
18 जुलाई को प्रयागराज कुंभ मेला प्रशासन की अखाड़ा परिषद की बैठक

 जागरण संवाददाता, हरिद्वार। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद आगामी प्रयागराज कुंभ में फर्जी व ढोंगी बाबाओं को नहीं घुसने देगी। इसके लिए परिषद ने ऐसे फर्जी व ढोंगी बाबाओं की सूची तैयार की है, जिसे जल्द सार्वजनिक किया जाएगा। परिषद ने धर्म के नाम पर होने वाले पाखंड को रोकने और आमजन को जागरूक करने के लिए यह पहल की है।

परिषद के अध्यक्ष श्रीमहंत रविंद्रपुरी ने बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने संतों से अपील की कि उन्हें धर्म व समाज हित में आगे आकर समाज को जागरूक करना चाहिए।

प्रशासन के साथ अखाड़ा परिषद की बैठक प्रस्तावित

उन्होंने कहा कि इस समय देश में सैकड़ों फर्जी महंत, महामंडलेश्वर, जगदगुरु, शंकराचार्य और बाबा धर्म के नाम पर पाखंड फैला रहे हैं। ऐसे फर्जी संत और बाबाओं को अखाड़ा परिषद ब्लैक लिस्ट करेगी। बताया कि 18 जुलाई को प्रयागराज कुंभ मेला प्रशासन के साथ अखाड़ा परिषद की बैठक प्रस्तावित है।

ढोंगी बाबाओं की सूची मेला प्रशासन को सौंपी जाएगी

इस दौरान परिषद की ओर से फर्जी व ढोंगी बाबाओं की सूची मेला प्रशासन को सौंपी जाएगी और कुंभ मेले में उन्हें भूमि आवंटन व अन्य सुविधाएं न दिए जाने की मांग की जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी कुंभ के दौरान सभी तेरह अखाड़ों को एक-एक करोड़ की धनराशि और अधिक से अधिक से सुविधाएं देने की मांग भी की जाएगी।