जागरण संवाददाता, रुड़की: एशियन डेवलपमेंट बैंक (एडीबी) की ओर से जुलाई मध्य तक सीवर प्रोजेक्ट का कार्य पूरा करने का दावा किया गया था लेकिन अब कार्यदायी संस्था ने इस कार्य को पूरा होने की तिथि लगभग दो महीने आगे खिसका दी है। एडीबी को इसके लिए शासन से भी अनुमति मिल गई है। ऐसे में शहरवासियों की मुश्किलें अभी खत्म नहीं होने वाली हैं।

शहर में एडीबी की ओर से जुलाई 2016 से सीवर प्रोजेक्ट का कार्य किया जा रहा है। जिस वजह से सड़कों की स्थिति बद से बदतर होने के कारण शहरवासियों को आवाजाही में लंबे समय से मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। वैसे तो एडीबी की ओर से 11 जुलाई 2018 को सीवर प्रोजेक्ट का कार्य पूरा करने का दावा किया जा रहा था लेकिन अभी भी शहर में करीब 400-500 मीटर क्षेत्र में सीवर लाइन डाले जाने का काम शेष है। जबकि 20-25 मेनहोल भी बनाए जाने बाकी हैं। उधर, मौसम विशेषज्ञों के अनुसार अगले सप्ताह तक मानसून भी दस्तक देने वाला है। ऐसे में कार्यदायी संस्था के लिए मानसून के दौरान कार्य करना मुश्किल होगा। ऐसे में एडीबी ने जुलाई की बजाए सितंबर में सीवर प्रोजेक्ट को पूरा करने की अनुमति शासन से मांगी है। एडीबी के सीनियर प्रोजेक्ट मैनेजर आरके रजवार के अनुसार प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए शासन से दो महीने का समय और मांगा गया था। जिसकी अनुमति मिल गई है।

----

इनसेट

78 किमी. में डाली गई लाइन

रुड़की: 95 करोड़ के सीवर प्रोजेक्ट के तहत एडीबी की ओर से शहर में 78 किमी. में लाइन डाली गई है। वहीं अभी भी मेन बाजार, अंबर तालाब, चंद्रपुरी, कब्रिस्तान वाली रोड, अनाज मंडी, डीएवी रोड आदि स्थानों पर कुछ-कुछ जगहों पर लाइन डालने और मेनहोल बनाने का काम शेष रह गया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप