जागरण संवाददाता, रुड़की: बवाल के मामले में नामजद आरोपित अब भूमिगत हो गए हैं। पुलिस नामजद आरोपितों के घरों में दबिश दे रही है। वहीं पुलिस के हाथ मारपीट का वीडियो भी लगा है, जिसके आधार पर बवाल में शामिल आरोपितों को चिह्नित किया जा रहा है।

वेलेंटाइन डे पर दो समुदाय के लोगों के बीच जमकर बवाल हुआ था। इसमें दोनों तरफ से तीन लोग घायल हो गए थे। बवाल से पहले हिदू संगठन के कार्यकर्ताओं ने शहर में खुलेआम हथियार लहराते हुए प्रदर्शन किया था। पुलिस ने बवाल और हथियार लहराने के मामले में शहर की सिविल लाइंस और गंगनहर कोतवाली में चार मुकदमे दर्ज किए थे। इनमें 60 से अधिक लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया था। पुलिस ने एक कार को भी सीज किया था। पुलिस ने अबतक आठ लोगों को मामले में गिरफ्तार किया है। पुलिस की कार्रवाई के बाद अब आरोपित भूमिगत हो गए हैं। पुलिस ने इन मामलों में शामिल रहे दोनों पक्षों के आरोपितों के घर दबिश दी, लेकिन आरोपित फरार मिले। पुलिस रिश्तेदारियों में इनकी तलाश कर रही है। पुलिस को दोनों पक्षों के बीच हुए झगड़े का एक वीडियो भी हाथ लगा है। जिसमें मारपीट करते आरोपित दिख रहे हैं। सिविल लाइंस कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अमरजीत सिंह ने बताया कि पुलिस को जो वीडियो मिला है, उसके आधार पर आरोपितों को चिह्नित किया जा रहा है। वहीं हथियारों का प्रदर्शन करने वाले वीडियो में भी शामिल आरोपित चिह्नित किए जा रहे हैं। कोतवाली में सिफारिश करने वालों की भीड़: बवाल के मामले के बाद अब सिफारिश करने वाले भी कोतवाली पहुंच रहे हैं। इन लोगों को परिचित यह पता लगाने के लिए भेज रहे हैं कि पुलिस ने कितने आरोपित ट्रेस किए हैं, कितने लोगों के नाम मुकदमों में शामिल हुए है ताकि बचाव किया जा सके।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस