Move to Jagran APP

Aakash Madhwal : बीटेक करने के बाद की प्राइवेट नौकरी, आकाश ने 300 रुपये में तय किया Mumbai Indians टीम का सफर

रुड़की के ढंडेरा निवासी आकाश मधवाल ने इस मुकाम तक पहुंचने में काफी संघर्ष किया। आशा मधवाल बताती हैं कि उनके पति इंजीनियर सर्विसेज में इंजीनियर थे। वे अपने बेटों को इंजीनियर बनाना चाहते थे। पिता के इस सपने को पूरा करने के लिए आकाश ने इंजीनियरिंग की पढ़ाई की।

By Rena Edited By: Mohammed AmmarPublished: Fri, 26 May 2023 09:14 PM (IST)Updated: Fri, 26 May 2023 09:14 PM (IST)
बीटेक करने के बाद की प्राइवेट नौकरी, आकाश ने 300 रुपये में तय किया Mumbai Indians टीम का सफर

जागरण संवाददाता, रुड़की : मुंबई इंडियंस के तेज गेंदबाज आकाश मधवाल हर मैच से पहले मां आशा मधवाल को फोन करके उनका आशीर्वाद लेते हैं। वहीं मैच खत्म होने पर मां से पूछते हैं कि उनका प्रदर्शन कैसा रहा।

loksabha election banner

लखनऊ सुपरजायंट्स के खिलाफ एलिमिनेटर मुकाबले में पांच रन देकर और पांच विकेट चटकाकर ऐतिहासिक रि‍कॉर्ड बनाने वाले इस मैच से पहले भी आकाश ने मां से फोन पर बात की थी। वहीं आशा मधवाल ने बताया कि जब भी उनके बेटे का मैच होता है तो वह लगभग आधा घंटा बेटे की सफलता के लिए पूजा-अर्चना करती हैं।

रुड़की के ढंडेरा निवासी आकाश मधवाल ने इस मुकाम तक पहुंचने में काफी संघर्ष किया। आशा मधवाल बताती हैं कि उनके पति घनानंद मधवाल मिलिट्री इंजीनियर सर्विसेज में इंजीनियर थे। वे अपने बेटों को भी इंजीनियर बनाना चाहते थे। पिता के इस सपने को पूरा करने के लिए आकाश ने इंजीनियरिंग की पढ़ाई की।

बीटेक करके आकाश इंजीनियर बन गया और कुछ समय तक प्राइवेट नौकरी भी की, लेकिन क्रिकेट के प्रति उसका जुनून कायम था। आशा मधवाल ने बताया कि पांच साल पहले आकाश ने उत्तराखंड में क्रिकेट ट्राॅयल के लिए 300 रुपये का फार्म भरने के लिए उनसे अनुमति मांगी तो उन्होंने भी हामी भर दी थी। वहीं उसका चयन हो गया।

प्रशिक्षण मिलने से उसके खेल में धीरे-धीरे निखार आता रहा और आकाश ने अपने खेल से कोच एवं अधिकारियों को प्रभावित किया। वहीं 2018 में उत्तराखंड को बीसीसीआइ की मान्यता मिल गई। जबकि आकाश का खेल देखकर आइपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर ने उन्हें नेट बॉलर के रूप में रख लिया। वहीं 2022 में मुबंई इंडियंस ने आकाश को सूर्य कुमार यादव की जगह रिप्लेसमेंट के रूप में रखा था।

आकाश ने कोच से कहा अभी देना है बेस्ट से बेस्ट

क्रिकेटर आकाश मधवाल के कोच अवतार सिंह चौधरी ने बताया कि रेकॉर्ड बनाने के बाद गुरुवार को आकाश ने उन्हें फोन किया था। उन्होंने आकाश को शुभकामनाएं दी। वहीं आकाश ने उन्हें कहा कि अभी उन्हें अपना बेस्ट से बेस्ट देना है। कोच अवतार सिंह चौधरी ने बताया कि आकाश बहुत ही मीठा बोलता है।

जब भी फोन करता है तो एकेडमी के जूनियर खिलाड़ियों के बारे में पूछता है और उनको सपोर्ट करता है। उन्होंने कहा कि किसी भी खिलाड़ी के ये गुण उसे बहुत आगे तक ले जाते हैं। बताया कि जब वह उनके पास आया था तो टेनिस गेंद से खेलता था और अब आकाश ने ऐतिहासिक रेकॉर्ड बनाया है। उन्हें पूरी उम्मीद है कि जल्द ही आकाश भारतीय टीम का हिस्सा बन जाएगा।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.