जागरण संवाददाता, रुड़की: यादवपुरी स्थित ट्यूबवेल की मोटर फुंकने की वजह से गुरुवार सुबह रामनगर समेत 12 से अधिक कॉलोनी एवं मोहल्लों में पेयजल आपूर्ति बाधित रही। इसकी वजह से करीब 15 हजार की आबादी को पानी के लिए तरसना पड़ा।

भीषण गर्मी में जल संस्थान के ट्यूबवेलों की मोटर फुंकने की समस्या बढ़ गई है। सोलानीपुरम, गांधी वाटिका और रामनगर स्थित ट्यूबवेलों की मोटर में बार-बार खराबी आ रही है। इसकी वजह से इन ट्यूबवेलों से जिन क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति की जाती है, उपभोक्ताओं को पेयजल किल्लत से जूझना पड़ता है। बुधवार देर रात यादवपुरी स्थित ट्यूबवेल की मोटर फुंक गई। इस वजह से ओवरहेड टैंक नहीं भर सका। इसके चलते गुरुवार सुबह रामनगर, सुभाष नगर, राजेंद्र नगर, कृष्णा नगर, प्रेमनगर, शंकरपुरी, ऋषिनगर, नेहरू नगर, पनियाला रोड, काशीपुरी, अंबेडकर नगर, नई बस्ती, आदर्श कॉलोनी समेत कुछ अन्य मोहल्लों में सुबह पानी नहीं आ सका। ऐसे में उपभोक्ताओं को पानी के लिए इधर-उधर भटकना पड़ा। जल संस्थान के जेई हिमांशु त्यागी ने बताया कि यादवपुरी स्थित ट्यूबवेल की मोटर बुधवार देर रात फुंक गई थी। इसकी वजह से गुरुवार सुबह कुछ क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति बाधित रही। बताया कि मोटर ठीक कराया जा रहा है।

बिजली गुल होने से हो रही पेयजल किल्लत: इन दिनों शहर और आसपास के क्षेत्रों में बिजली कटौती से समस्या बढ़ गई हैं। कभी मरम्मत के कारण, तो कभी किसी और वजह से दिनभर बिजली कई-कई घंटे गुल हो रही है। इसके अलावा कुछ क्षेत्रों में बिजली की आंख-मिचौनी का खेल चल रहा है। ऐसे में एक ओर जहां बिजली कटौती के कारण आग उगलती गर्मी झेलनी पड़ रही है, वहीं पेयजल आपूर्ति बाधित होने से भी दो-चार होना पड़ रहा है। बुधवार को बिजली कटौती की वजह से शाम को रामनगर, इंद्रा पार्क आदि में पेयजल आपूर्ति बाधित रही। वहीं रामनगर के यादवपुरी में ट्यूबवेल की मोटर फुंकने की वजह से गुरुवार सुबह भी पानी नहीं आ सका। जिस वजह से लोगों की दिक्कत और अधिक बढ़ गई।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस