Move to Jagran APP

पुराना मुकदमा निपटाने को पैसों की जरूरत पड़ी तो हल्द्वानी से देहरादून तक अपराध को दिया अंजाम, ऐसे आए पकड़ में

Dehradun Crime एक मामले में समझौते के लिए एक आरोपित को पैसों की जरूरत पड़ी तो अपने दो साथियों के साथ बाइक चोरी कर रकम जुटाने की योजना बना डाली। पुलिस ने आरोपित युवकों की निशानदेही पर चार बाइक भी बरामद कर ली हैं।

By Jagran NewsEdited By: Nirmala BohraPublished: Sun, 26 Mar 2023 11:31 AM (IST)Updated: Sun, 26 Mar 2023 11:53 AM (IST)
Dehradun Crime: पुलिस ने आरोपित युवकों की निशानदेही पर चार बाइक भी बरामद कर ली हैं।

जागरण संवाददाता, देहरादून: Dehradun Crime: बाइक की टक्कर के बाद हुए झगड़े के एक मामले में समझौते के लिए एक आरोपित को पैसों की जरूरत पड़ी तो अपने दो साथियों के साथ बाइक चोरी कर रकम जुटाने की योजना बना डाली।

loksabha election banner

हल्द्वानी से देहरादून तक चार बाइक भी चोरी कर लीं, लेकिन इन बाइक को बेचते समय तीनों युवक डालनवाला कोतवाली पुलिस के हत्थे चढ़ गए। पुलिस ने आरोपित युवकों की निशानदेही पर चार बाइक भी बरामद कर ली हैं।

लच्छीवाला जंगल से चार बाइक बरामद

एसपी क्राइम सर्वेश पंवार ने मामले का पर्दाफाश करते हुए कहा कि चंद्रेश्वरनगर ऋषिकेश निवासी प्रदीप खंतवाल, धारकोट यमकेश्वर, पौड़ी निवासी मनीश शर्मा ने डोईवाला कोतवाली और जमनीवाला 18 बीघा, राजपुर निवासी आयुष रावत ने डालनवाला कोतवाली में वाहन चोरी की शिकायतें दर्ज करवाई थीं।

डालनवाला कोतवाली के इंस्पेक्टर एनके भट्ट, हर्रावाला पुलिस चौकी के इंचार्ज विवेक भंडारी ने घटनास्थल के आसपास 200 सीसीटीवी कैमरों की चेकिंग से मिली लीड के बाद कुआंवाला बैरियर के पास से नितेश कश्यप निवासी डी क्लास चौराहा हल्द्वानी, अमन शर्मा निवासी चौधरी कालोनी बरेली रोड हल्द्वानी और सौरभ साहू निवासी वृंदावन कालोनी, बरेली रोड हल्द्वानी को गिरफ्तार किया। आरोपितों की निशानदेही पर लच्छीवाला जंगल से चार बाइक बरामद की गई।

इसलिए बनाई बाइक चोरी की योजना

एसपी क्राइम सर्वेश पंवार ने बताया कि कुछ समय पूर्व आरोपित नितेश कश्यप की बाइक से किसी व्यक्ति को टक्कर लग गई थी। टक्कर लगने के बाद झगड़ा हुआ तो व्यक्ति ने नितेश के खिलाफ थाना वनफूलपुरा, हल्द्वानी में मुकदमा दर्ज कराया। अब दोनों पक्ष में समझौता हो रहा है। पीड़ित पक्ष ने क्षतिपूर्ति के रूप में 50 हजार रुपये मांगे हैं।

नितेश न रुपये न होने के कारण अपने दो साथियों के साथ मिलकर बाइक चोरी करनी शुरू कर दी। आरोपितों ने कुछ दिन पहले रुद्रपुर से एक बाइक चोरी की और उसकी नंबर प्लेट हटा दी व चेसिस नंबर घिस दिया।

बाइक से वह डोईवाला पहुंचे और वहां से एक स्कूटी व मोटरसाइकिल चोरी की। 22 मार्च को वह करनपुर पहुंचे और यहां बुलेट चोरी कर ली। चोरी के वाहन तीनों ने लच्छीवाला के जंगल में छिपा दिए।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.