जागरण संवाददाता, संवाददाता, देहरादून: Uttarakhand Coronavirus उत्तराखंड के छह जिलों में कोरोना संक्रमण का कोई नया मामला नहीं आया है। जबकि बाकी सात जिलों में 12 व्यक्तियों में कोरोना की पुष्टि हुई है। वहीं बीस मरीज ठीक भी हुए हैं। कोरोना से किसी मरीज की मौत नहीं हुई है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण दर 0.07 फीसद दर्ज की गई।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, निजी व सरकारी लैब से 17 हजार 358 सैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई, इनमें 17 हजार 346 सैंपल की रिपोर्ट निगेटिव आई है। पौड़ी गढ़वाल में सबसे ज्यादा चार लोग संक्रमित मिले हैं। इसके अलावा नैनीताल व उत्तरकाशी में भी दो-दो लोग पाजिटिव मिले हैं। वहीं चंपावत, देहरादून, रुद्रप्रयाग व ऊधमसिंह नगर में एक-एक मामला आया है। अल्मोड़ा, बागेश्वर, चमोली, हरिद्वार, पिथौरागढ़ व टिहरी गढ़वाल में कोरोना का कोई नया मामला नहीं मिला है।

राज्य में अब तक कोरोना के तीन लाख 43 हजार 223 मामले आए हैं। जिनमें तीन लाख 29 हजार 458 (95.99 फीसद) स्वस्थ हो गए हैं। राज्य में फिलवक्त कोरोना के 312 सक्रिय मामले हैं। वहीं 7389 मरीजों की अब तक मौत हो चुकी है।

यह भी पढ़ें- फीस जमा नहीं की तो सातवीं के छात्र को पहले आनलाइन क्लास से बाहर किया, फिर स्कूल से निकाला

फंगस का एक और मामला

प्रदेश में फंगस (म्यूकर माइकोसिस) का एक और मामला मिला है। राज्य में अब तक इस बीमारी के 580 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें से 131 मरीजों की मौत हो चुकी है, जबकि 350 ठीक हुए हैं।

37 हजार 421 व्यक्तियों को लगा टीका

प्रदेश में 749 केंद्रों पर 37 हजार 421 व्यक्तियों को कोरोनारोधी टीका लगाया गया। हरिद्वार में सबसे अधिक 15 हजार 90 व्यक्तियों का टीकाकरण किया गया। इसके अलावा ऊधमसिंह नगर में सात हजार 611, देहरादून में पांच हजार 783 और नैनीताल में दो हजार 578 व्यक्तियों का टीकाकरण हुआ है। प्रदेश में अब तक 70 लाख 9 हजार 574 व्यक्तियों को वैक्सीन की पहली खुराक लग चुकी है। जबकि 23 लाख 57 हजार 401 का पूर्ण टीकाकरण हो चुका है। 18 से 44 आयु वर्ग के भी 41 लाख 16 हजार 36 व्यक्तियों को वैक्सीन की पहली और पांच लाख 65 हजार 795 को दोनों खुराक लग चुकी हैं।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड के अस्पतालों में मुफ्त जांच योजना पर हावी अव्यवस्था, मरीजों को देना पड़ रहा शुल्क

Edited By: Sumit Kumar