देहरादून, जेएनएन। मसूरी घूमने आए सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के चालक की रविवार शाम अचानक तबीयत बिगड़ गई। परिचितों ने उन्हें लेकर मैक्स अस्पताल पहुंचे, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया। चिकित्सकों ने मृत्यु का कारण हृदयाघात बताया है। डीएम की अनुमति के पुलिस ने बिना पोस्टमार्टम के शव परिजनों को सौंप दिया।

पुलिस के अनुसार कपिल देव निवासी दिल्ली सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के चालक थे। वह अपने परिवार और स्टाफ के प्रहलाद सिंह और वजीर के साथ बीस फरवरी को दिल्ली से मसूरी पहुंचे। यहां वह घूमने-फिरने के बाद धनौल्टी चले गए। रविवार की शाम वह धनौल्टी से लौट रहे थे। मसूरी हाइवे पर उन्हें अचानक उल्टियां होने लगीं और सांस लेने में दिक्कत होने की बात कही। 

इस पर साथ के लोगों ने उन्हें कृत्रिम श्वांस देने की कोशिश भी की, लेकिन वह अचेत हो गए। परिजनों ने उन्हें मैक्स अस्पताल में भर्ती कराया, जहां परीक्षण के बाद चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। एसओ राजपुर अशोक राठौर ने बताया कि चिकित्सकों ने मौत का कारण हार्ट अटैक बताया है।

यह भी पढ़ें: सिटी बस ने बाइक सवार युवक को कुचला, चालक फरार Dehradun News

शव को कब्जे में ले लिया गया था, लेकिन परिजनों ने जिलाधिकारी के यहां पोस्टमार्टम न कराने की अनुरोध किया था। अनुमति मिलने के बाद पंचायतनामा भर कर शव परिजनों को सौंप दिया गया। 

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: चंद मिनटों में खत्म हो गया एक हंसता-खेलता परिवार, सड़क हादसे ने ले ली सात की जान

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस