देहरादून, [जेएनएन]: एसटीएफ व वन विभाग की टीम ने शनिवार को हाथी दांत के साथ दो तस्करों को गिरफ्तार किया है। तस्करों ने 16 सितंबर को विधालना बीट क्षेत्र में मृत पाए गए नर हाथी के दोनों दांत काट ले गए थे। हाथी दांत के गायब होने के बाद से ही टीमें तस्करों की तलाश में जुटी हुई थीं। शनिवार को दो तस्करों को लच्छीवाला के पास से गिरफ्तार कर लिया गया, जबकि दो अभी फरार हैं।

प्रभागीय वनाधिकारी धर्म सिंह मीणा ने बताया कि विधालना बीट संख्या दो में 16 सितंबर को नर हाथी मृत मिला। हाथी के दोनों दांत काट लिए गए थे। इससे संदेह हुआ कि कहीं तस्करों ने तो दांत हथियाने के लिए हाथी की हत्या तो नहीं की, लेकिन पीएम रिपोर्ट में हृदयाघात से मौत की पुष्टि होने के बाद साफ हो गया कि हाथी की मौत के बाद उसके दांत काटे गए हैं। 

इसमें स्थानीय तस्करों का हाथ होने का शक हुआ। तस्करों की गिरफ्तारी के लिए एसएसपी एसटीएफ रिधिम अग्रवाल और एसएसपी निवेदिता कुकरेती को जानकारी दी गई। एसटीएफ और पुलिस के साथ वन विभाग की टीम तभी से तस्करों की तलाश में जुटी थी। शनिवार को लच्छीवाला के पास से सुलेमान व नूरदीन पुत्रगण फकीर अली निवासी ग्राम सांकरी, भानियावाला, डोईवाला को गिरफ्तार किया गया। दोनों की निशानदेही पर जमीन में दबा कर रखे गए दो हाथी दांत के छह टुकड़े बरामद कर लिए गए।

पूछताछ में इनाम पुत्र मुस्तफा ग्राम शेरपुर थाना सहसपुर व हनीफ पुत्र मूसा निवासी बक्सरवाला, भानियावाला के भी नाम सामने आए। इन दोनों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। प्रभागीय वनाधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार तस्करों के गिरोहों के कनेक्शन के बारे में पूछताछ की जा रही है। दोनों पहली बार वन्य जीव अंगों की तस्करी के आरोप में पकड़े गए हैं। ऐसे में जांच के बाद ही तस्करों के कनेक्शन के बारे में जानकारी हो पाएगी।

यह भी पढ़ें: जौलीग्रांट एयरपोर्ट के निकट मिला हाथी का शव, शिकारियों ने गायब किए दांत

यह भी पढ़ें: ट्रैक पर आया हाथियों का झुंड, रेल की गति धीमी कर टाला हादसा 

यह भी पढ़ें: कोटद्वार में स्कूल में घुसा हाथी, देहरादून में रौंद रहे फसल; लोगों में दहशत

Posted By: Sunil Negi