जागरण संवाददाता, ऋषिकेश: चारधाम यात्रा तैयारी को लेकर आयुक्त गढ़वाल मंडल के निर्देश के बाद परिवहन विभाग सक्रिय हो गया है। सहायक संभागीय परिवहन कार्यालय ने यात्रा का संचालन करने के लिए संयुक्त रोटेशन यात्रा व्यवस्था समिति के गठन की प्रक्रिया शुरू कर दी है। एआरटीओ के मुताबिक संयुक्त रोटेशन के जरिये चारधाम यात्रा का संचालन होगा।

हाल में हुई आयुक्त गढ़वाल की बैठक में कहा गया था कि आगामी चारधाम यात्रा का संचालन संयुक्त रोटेशन यात्रा व्यवस्था समिति के माध्यम से ही होगा। नौ परिवहन कंपनियों से यात्रा में संचालित वाहनों की सूची एक सप्ताह के भीतर उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। चार धाम यात्रा के संचालन को लेकर परिवहन विभाग ने इसकी तैयारी शुरू कर दी है। सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी प्रशासन अरविद कुमार पांडेय ने बताया कि रोटेशन यात्रा व्यवस्था समिति के अधीन परिवहन कंपनियों टीजीएमओयू, जीएमओ, रूपकुंड, सीमांत, दून वैली, रामनगर यूजर्स, यातायात पर्यटन सहकारी संघ, जीएमसीसी से यात्रा में संचालित वाहनों की सूची मांगी है। एक सप्ताह में सूची उपलब्ध होने के बाद परिवहन कंपनियों के पदाधिकारियों की बैठक लेकर चारधाम यात्रा संचालन की रुपरेखा निर्धारित की जाएगी।

------

किराया तय ना होने से बुकिग प्रभावित

चारधाम यात्रा तीन मई से शुरू होने जा रही है। संयुक्त रोटेशन यात्रा व्यवस्था समिति कार्यालय में राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र, उत्तरप्रदेश आदि राज्यों से वाहनों की एडवांस बुकिग के लिए तीर्थयात्रियों के फोन भी आने लगे हैं। लेकिन, वाहनों का किराया कितना बढ़ेगा यह तय न होने से अभी एडवांस बुकिग नहीं हो रही है। संयुक्त रोटेशन के प्रभारी मदन मोहन कोठारी ने बताया कि इस संबंध में रोटेशन में शामिल सभी परिवहन कंपनियों की ओर से विचार विमर्श के बाद शीघ्र ही किराया सूची तय होने की संभावना है।

Edited By: Jagran

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट