जागरण संवाददाता, देहरादून। Dehradun Crime News चोर कितना भी शातिर क्यों न हो, कोई न कोई सुराग जरूर छोड़ जाता है। ऐसे ही एक सुराग ने नासिर और निसार को भी सलाखों के पीछे पहुंचा दिया। अपने गिरोह के साथ उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में चोरी की 28 वारदात को अंजाम दे चुका नासिर बेहद शातिर किस्म का है। देहरादून में चोरी को अंजाम देने के बाद वह अपने साथियों के साथ उत्तर प्रदेश चला जाता था। इस वजह से पुलिस उस तक पहुंच नहीं पा रही थी। इस बार भी आरोपितों ने ऐसा ही किया, मगर उनकी कार ने पुलिस को उन तक पहुंचा दिया।

आरोपितों ने पांच अक्टूबर को चिकित्सक और 11 अक्टूबर को प्रोफेसर के घर चोरी को अंजाम देने के लिए एक ही कार का इस्तेमाल किया था। जो नीले रंग की थी। हालांकि, कार के रंग के आधार पर आरोपितों तक पहुंचना मुमकिन नहीं था। यह कार दोनों घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों में पुलिस को दिखी थी। कार के रंग और आरोपितों के हुलिये के आधार पर पुलिस ने कई संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ भी की, मगर सफलता नहीं मिली। बावजूद इसके पुलिस लगातार अलग-अलग एंगल से सीसीटीवी फुटेज की जांच करती रही। इसी बीच पुलिस को आरोपितों की कार में कुछ ऐसा दिखा, जिसने उनके ठिकाने तक पहुंचा दिया।

दरअसल, पुलिस ने जब सीसीटीवी फुटेज का बारीकी से अवलोकन किया तो पाया कि आरोपितों की कार के सिर्फ एक पहिये में व्हील कवर लगा हुआ है। बाकी तीन पहिये बगैर व्हील कवर के थे। इसके बाद पुलिस ने एक व्हील कवर वाली नीले रंग की कार की तलाश में शहरभर में लगे सीसीटीवी कैमरों में घटना वाले दिन की फुटेज खंगाली। ऐसी एक कार आशारोड़ी बैरियर से सहारनपुर की तरफ जाती दिखी। इसी तरह आगे के सीसीटीवी कैमरे भी चेक किए गए और पुलिस नासिर के ठिकाने बेहट तक पहुंच गई। वहां नासिर की पत्नी से पूछताछ की गई। उससे पता चला कि नासिर ने दून से चोरी किया टीवी बेहट में ही एक व्यक्ति को 12 हजार रुपये में बेचा है। वहां से पुलिस ने टीवी बरामद कर लिया।

वहीं, गुरुवार को नासिर चोरी के इरादे से निसार के साथ उसी कार से देहरादून पहुंच गया। यहां सहस्रधारा हेलीपैड के पास दोनों को दबोच लिया गया। आरोपितों से चोरी किए पूरे सामान की बरामदगी नहीं हो पाई है। चोरी का सामान अहसान ठिकाने लगाता था। पुलिस को उसकी गिरफ्तारी होने पर बड़ी बरामदगी की उम्मीद है।

यह भी पढ़ें:-Dehradun Crime: पुलिस ने देहरादून में चोरी की पांच वारदात का किया पर्दाफाश, जीजा-साला गिरफ्तार

Edited By: Sunil Negi