विकासनगर, [जेएनएन]: थाना सहसपुर के अंतर्गत सेलाकुई पुलिस ने ऑनलाइन शॉपिंग कर लोगों को लाखों रुपये का चूना लगाने वाले तीन साइबर ठगों को गिरफ्तार किया है। आरोपी एटीएम के बाहर खड़े होकर जानकारी जुटाते थे और ऑनलाइन शॉपिंग कर लोगों के पैसे उड़ा रहे थे। पुलिस ने तीनों आरोपियों को जेल भेज दिया। 

आपको बता दें कि फार्मा सिटी सेलाकुई में काम करने वाले व मूल रूप से मुंबई व हाल निवासी निगम रोड सेलाकुई शरद तानाजी चह्वाण ने सेलाकुई चौकी में मुकदमा दर्ज कराया था कि उनके खाते से ऑनलाइन शॉपिंग कर एक लाख 832 रुपये निकाल लिए। ठगों ने 26, 27 व 28 अगस्त को ऑनलाइन शॉपिंग की थी। पीड़ित का खाता राजपुर रोड देहरादून स्थित निजी बैंक में था। दूसरे मामले में हरिपुर सेलाकुई निवासी भूपेंद्र पुत्र जगदीश प्रसाद के खाते से साइबर ठगों ने नौ हजार की ऑनलाइन शॉपिंग कर ली। चौकी इंचार्ज गिरीश नेगी ने दोनों मामलों में मुकदमा दर्ज कर साइबर ठगों की तलाश शुरू की। 

पुलिस जांच में पता चला कि ठगों ने देहरादून में रहकर अपराध को अंजाम दिया। जिसके बाद कई एटीएम की सीसीटीवी फुटेज खंगाली गई। साथ ही ऑनलाइन शॉपिंग की डिलीवरी का पता भी लगाया गया। सेलाकुई पुलिस ने शुक्रवार को ऑनलाइन शॉपिंग कर ठगी करने के आरोपी मोहम्मद उवेश मलिक पुत्र अहसान निवासी ग्राम हासिमपुरा थाना देवबंद सहारनपुर व सलमान पुत्र बशीर निवासी ग्राम हासिमपुरा थाना देवबंद सहारनपुर उत्तर प्रदेश को सेलाकुई बाजार से गिरफ्तार कर लिया। जबकि, एक अन्य आरोपी फैजान पुत्र फुरकान निवासी नई बस्ती ऑफिसर्स कॉलोनी रेसकोर्स थाना नेहरू कॉलोनी देहरादून को उसके घर से दबोचा। जिनके कब्जे से ऑनलाइन शॉपिंग कर खरीदा गया सामान एक एसी, एक एलईडी, चार मोबाइल फोन, तीन चांदी के सिक्के, चार पेन ड्राइव, तीन मेमोरी कार्ड, दो हेयर ड्रायर, एक हेल्मेट, एक बैग, बुलेट बाइक स्पेयर पाट्र्स, डियो, शेविंग क्रीम आदि बरामद किया गया। पुलिस ने मुकदमे में आइटी एक्ट लगा दिया है। चौकी इंचार्ज गिरीश नेगी के अनुसार आरोपी शातिर किस्म के हैं। जिन्होंने कई और लोगों को भी चूना लगाया है। तीनों आरोपियों को जेल भेज दिया गया है। 

ऐसे देते थे ठगी को अंजाम 

आरोपी एटीएम व साइबर कैफे में स्वैप मशीन के पास खड़े होकर ग्राहकों के एटीएम नंबर व पासवर्ड नोट कर लेते थे। रात में आरोपी मोबाइल फोन पर इंटरनेट से ऑनलाइन शॉपिंग करते थे। इसके अलावा ठग खुद को बैंक अधिकारी बताकर कॉल के जरिये खाताधारक से एटीएम व बैंक संबंधी डिटेल जुटाते हैं। 

यह भी पढ़ें: खुद को बैंक का अधिकारी बता कर फैक्ट्रीकर्मी के खाते से उड़ाए 16 हजार

यह भी पढ़ें: जालसाज ने बैंक अधिकारी बन खाते से एक हजार उड़ाए

यह भी पढ़ें: इन साइबर ठगों के कारनामों को जानकर हैरान हो जाएंगे आप

Posted By: raksha.panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस